Home » इंटरनेशनल » China: World's biggest-highest glass bridge closed after 13 days of opening, know why
 

क्यों खुलते ही बंद करना पड़ा दुनिया का सबसे ऊंचा कांच का पुल?

कैच ब्यूरो | Updated on: 3 September 2016, 19:41 IST

बीते 20 अगस्त को चीन में आम जनता के लिए खोला गया कांच के फर्श वाला पुल 13 दिन बांद ही बंद करना पड़ गया. हुनान प्रांत स्थित चांगचियाचिए में दो पर्वतों को जोड़ता दुनिया का सबसे लंबा और सबसे ऊंचा कांच के फर्श वाला पुल अपने में अनोखा था.

पीपुल्स डेली ऑनलाइन में शुक्रवार को छपी खबर के मुताबिक 20 अगस्त को दक्षिणी चीन में खुले वॉकवे को बंद करना पड़ा. वहीं, मेलऑनलाइन को इसके प्रवक्ता ने जानकारी दी कि यह पुल इस तरह बनाया गया है कि एक वक्त में यह अधिकतम 800 लगों का वजन उठा सकता है. लेकिन इसके उद्घाटन के बाद से रोजाना यहां पर करीब 10 हजार पर्यटक आने लगे.

जानिए चीन में खुले दुनिया के सबसे बड़े और खतरनाक कांच के पुल की खूबियां-खामियां

हालांकि उन्होंने कहा कि पुल का ग्लास फ्लोर (कांच की सतह) सुरक्षित है. उन्होंने यह भी जानकारी दी कि स्थानीय जिली काउंटी की सरकार को जब यह पता चला कि इस पुल से खुलने के बाद भारी तादाद में पर्यटकों को आकर्षित किया है तो सलाह दी गई कि इसे बंद कर दिया जाए. 

अब प्रबंधन ने निर्णय लिया है कि वे निर्देशों का पालन करेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि इस पुल को फिलहाल मरम्मत और बेहतर (मेंटेनेंस एंड अपग्रेडिंग) के लिए बंद किया गया है. 

माउंट एवरेस्ट नहीं है दुनिया का सबसे ऊंचा पर्वत!

पुल खुलने के बाद यहां आने वाली भारी भीड़ के चलते पर्यटकों को इस कांच के पुल पर आने से पहले घंटों कतार में खड़ा होना पड़ता था. इसके अलावा पर्यटकों की भारी तादद ने इस पुल के आसपास बनाई जा रही अन्य सुविधाओं के निर्माण में भी दिक्कत पैदा कर दी थी. पार्किंग का स्थान भी पूरा भर जाता था और रास्ते में वाहनों की कतारें लग जाती थीं.

हालांकि पुल पर बने कांच के फ्लोर की मजबूती को लेकर वे लोग पूरी तरह आश्वस्त हैं. फिलहाल इसकी घोषणा नहीं की गई है कि यह पुल कब खुलेगा.

रिलायंस जियो: क्या वाकई दुनिया का सबसे सस्ता प्लान दे रही है कंपनी?

बता दें कि हॉलीवुड फिल्म निर्माता जेम्स कैमरॉन की मशहूर 3डी फिल्म 'अवतार' की शूटिंग के स्थान पर बने दो पर्वतों को जोड़ने वाले इस पुल की लंबाई 430 मीटर (करीब आधा किलोमीटर) है. जमीन से 300 मीटर ऊंचाई (करीब 90 मंजिला इमारत) पर बने इस पुल का फर्श कांच का बना हुआ है जिससे आर-पार देखा जा सकता है. इस पुल की चौड़ाई 6 मीटर (करीब 20 फीट) है.

तियानमेनशान नेशनल फॉरेस्ट पार्क का यह स्काईवॉक ब्रिज अपने आप में अनोखा है. इस पर फैशन शो आयोजित किए जाने की भी योजना बनाई गई है. जबकि इसे बनाते वक्त यह भी ध्यान रखा गया कि हवा चलने पर यह हिले नहीं. साथ ही सैकड़ों लोगों के इस पर एक साथ चलने पर इसमें पैदा होने वाला कंपन इसे नुकसान न पहुंचाए.

3जी स्मार्टफोन पर रिलायंस जियो 4जी सिम चलाने के 3 तरीके

कई विश्व रिकॉर्ड अपने नाम करने वाले इजरायल के आर्किटेक्ट हैम डोटान द्वारा डिजाइन इस अनोखे पुल पर एक वक्त में 800 लोग खड़े हो सकते हैं. बताया जा रहा है कि यूं तो देखने में यह पुल काफी खतरनाक लगता है लेकिन हकीकत में यह खतरनाक नहीं है. इसकी सुरक्षा और मजबूती को अच्छी तरह जांचा-परखा गया है. पुल पर कांच का फर्श बनाने के लिए तीन परतों वाले पारदर्शी कांच के 99 आयताकार हिस्सों का इस्तेमाल किया गया है. 

खूबियां और खामियां

  • यूं तो इस पुल को जनता के लिए खोलने से पहले इसकी अच्छी तरह जांच की गई है. चीनी अधिकारियों के मुताबिक पुल का कांच कितना सुरक्षित है इसकी जांच के लिए विशेषज्ञों द्वारा फर्श पर हथौड़े बरसाए गए लेकिन कुछ नुकसान नहीं हुआ. 
  • यह फर्श एक वक्त में कितना ज्यादा वजन सह सकता है इसके लिए लोगों से भरी एक एसयूवी कार को भी इस फर्श पर उतारा गया और फर्श में कुछ नहीं हुआ. 
  • लोहे की रस्सियों से दो पर्वतों के बीच लटकने वाले इस पुल के निर्माण में अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करने के साथ 34 लाख अमेरिकी डॉलर खर्च किए गए हैं.
  • अगर खामियों की बात करें तो सबसे बड़ी खामी इसकी डिजाइन ही है. दरअसल यह पुल रोमांच पसंद करने वालों के लिए तो एक वरदान है. लेकिन कमजोर दिल वालों के लिए अभिशाप. विशेषज्ञों का मानना है कि ऊंचाई से डरने वाले, कमजोर दिल के लोगों को यहां खतरा हो सकता है. 
  • इसके अलावा इस पुल पर कोई बदनामी का दाग न लगे इसके लिए इस पर हर वक्त पुख्ता सुरक्षा के इंतजाम की भी बहुत जरूरत है. 

First published: 3 September 2016, 19:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी