Home » इंटरनेशनल » Chinese missiles in South China Sea
 

चीन ने तैनात की दक्षिण चीन सागर के वुडी द्वीप पर मिसाइलें

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 February 2016, 23:50 IST

चीन ने विवादित दक्षिण चीन सागर में अपनी लंबी दूरी की मिसाइलें तैनात की हैं.

वहीं दूसरी तरफ अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने प्राकृतिक संसाधन संपन्न इस क्षेत्र में क्षेत्रीय विवाद को हल करने के लिए ठोस कदमों को उठाने के लिए सबको साथ आने की बात कही.

इस विवाद का मूल कारण दक्षिण चीन सागर के क्षेत्रों पर ताईवान और वियतनाम के आपसी दावों के बाद आमने-सामने खड़े होने से पैदा हुए है.

फॉक्स न्यूज के हवाले से इस तरह की खबर आ रही है कि उपग्रह के भेजे गये चित्रों में दक्षिण चीन सागर में चीन के द्वारा वुडी द्वीप पर जमीन से हवा में मार करने वाली आठ एचक्यू-9 मिसाइल लांचर और रेडार प्रणालियों के दो सेट नजर आते हैं.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक उपग्रह द्वारा भेजे गये इन चित्रों में तीन फरवरी को द्वीप के तट खाली थे जबकि 14 फरवरी को उन्हीं तटों पर मिसाइलें नजर आ रही थीं.

खबरों के मुताबिक इस मामले पर एक अमेरिकी अधिकारी ने कहा है कि इन चित्रों में चीन ने 200 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली एचक्यू-9 मिसाइलें दक्षिण चीन सागर में तैनात कर दी हैं. जिससे इसके पास के जलीय रास्तों से गुजरने वाले सैन्य और असैन्य जहाजों के लिए बड़ा खतरा पैदा हो गया है.

गौरतलब है कि वुडी द्वीप पारसेल्स द्वीप श्रृंखला का हिस्सा है जो लगभग 40 सालों से चीन के कब्जे में है और ताईवान, वियतनाम दोनों ही उस पर अपने अधिकार का दावा करते रहे हैं.

चीन द्वारा यह कदम ऐसे मौके पर उठाया गया है कि जब अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा कैलीफोर्निया में 10 एशियाई देशों के नेताओं की मेजबानी कर रहे हैं.

कैलीफोर्निया में इकट्ठा इन नेताओं ने चीन की इस हरकत पर अपनी चिंता जाहिर की. इस विवादित मामले में ओबामा ने 16 फरवरी को कहा था कि अमेरिका अंतरराष्ट्रीय कानून के दायरे में आने वाले हर क्षेत्र में जल परिवहन के लिए स्वतंत्र है. अमेरिका इन क्षेत्रों में नौ परिवहन करेगा और साथ ही ऐसे सभी देशों के संबंधित अधिकारों का समर्थन भी करेगा.

First published: 18 February 2016, 23:50 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी