Home » इंटरनेशनल » Citizenship Act protests: France, Israel, America release travel advisory for its citizens
 

CAB protests: फ्रांस, इजराइल, अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए जारी की यात्रा एडवाइजरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 December 2019, 12:47 IST

फ्रांस, इजरायल, यू.एस. और यू.के. ने संसद में पारित नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों के मद्देनजर भारत आने वाले नागरिकों के लिए ट्रैवल एडवाइजरी जारी की है. विदेश और राष्ट्रमंडल कार्यालय द्वारा जारी एक बयान में यूनाइटेड किंगडम ने नागरिकों से जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और पाकिस्तान के साथ सीमा के पास के सभी क्षेत्रों (वाघा को छोड़कर) की यात्रा करने से बचने के लिए भी कहा है. 13 दिसंबर 2019 को गुवाहाटी में कर्फ्यू के बावजूद नागरिकता अधिनियम के खिलाफ प्रदर्शन जारी हैं.

इस विरोध के बीच गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी पूर्वोत्तर यात्रा भी रद्द कर दी थी. अमेरिका ने नागरिकों को नागरिकता संशोधन विधेयक (CAB) के पारित होने के खिलाफ विरोध और हिंसा के संदर्भ में सावधानी बरतने के लिए कहा है. अमेरिकी सरकार ने असम की आधिकारिक यात्रा को अस्थायी रूप से निलंबित कर दिया है. फ्रांस और इजरायली सरकारों ने भी अपने नागरिकों से भारत में यात्रा करते समय सतर्क रहने का आग्रह किया है.


यू.एन. मानवाधिकार निकाय के उच्चायुक्त के कार्यालय द्वारा यह कहते हुए चिंता व्यक्त की गई कि CAB भेदभावपूर्ण था. इन टिप्पणियों ने पूर्वोत्तर की स्थिति के बारे में चिंता को और बढ़ा दिया है. 15 से 17 दिसंबर तक गुवाहाटी में आयोजित होने वाले भारत-जापान शिखर सम्मेलन को रद्द कर दिया गया है.

यह शिखर वार्ता गुवाहाटी में होनी थी. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट में कहा ‘‘जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के प्रस्तावित भारत दौरे के संबंध में दोनों पक्षों ने निकट भविष्य में पारस्परिक रूप से सुविधाजनक तिथि पर दौरा रखने का फैसला किया है.’’

नागरिकता बिल के खिलाफ असम में प्रदर्शन जारी, सामूहिक भूख हड़ताल पर बैठे लोग

First published: 14 December 2019, 12:42 IST
 
अगली कहानी