Home » इंटरनेशनल » Corona Virus Pandemic in US: President Trump requests PM Modi to release amount of Hydroxychloroquine Drug ordered by America
 

कोरोना वायरस ने अमेरिका में बरपाया कहर, राष्ट्रपति ट्रंप ने भारत से मांगी मदद

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 April 2020, 10:45 IST

Corona Virus Pandemic in US: कोरोना वायरस (Corona Virus) के प्रकोप से अमेरिका (America) बुरी तरह से पस्त हो गया है. यहां कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे है. ऐसे में कई देश अमेरिका की मदद के लिए सामने आए हैं और अमेरिका भी मदद मांग रहा है. अब अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (President Donald Trump) ने भारत (India) से मदद मांगी है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद मोदी (PM Narendra Modi) से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा (Hydroxychloroquine Drug) की खेप भेजने का आग्रह किया है. जिसका ऑर्डर अमेरिका ने पहले ही भारत को दिया था. ट्रंप ने यह अनुरोध ऐसे समय पर किया है जब पिछले महीने भारत ने निर्यात के लिए दवाओं पर प्रतिबंध लगा दिया था.

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप शनिवार सुबह प्रधानमंत्री मोदी से बात की और उनसे हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन दवा को अमेरिका के लिए जारी करने का अनुरोध किया. व्हाइट हाउस में अपने डेली न्यूज कांफ्रेंस में ट्रंप ने कहा, "मैंने आज सुबह प्रधानमंत्री मोदी से बात की. वे बड़ी मात्रा में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन बनाते हैं. भारत इसपर गंभीरतापूर्वक ध्यान दे रहा है."


बता दें कि कोरोना वायरस की महामारी को देखते हुए भारत के विदेश व्यापार महानिदेशालय ने 25 मार्च को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन ये भी कहा था कि मानवीय आधार पर कुछ शिपमेंट को अनुमति दी जा सकती है. बता दें कि अमेरिका में अब तक कोरोना के तीन लाख 11 हजार से भी अधिक मामले सामने आ चुके हैं और 8,454 लोगों की मौत हुई है. अमेरिका कोरोना से प्रभावित होने वाले विश्व के देशों में सबसे ऊपर है. वहीं कोरोना से निपटने के लिए दुनिया के वैज्ञानिकों को अभी तक कोई इलाज नहीं मिला है.

अमेरिका और दुनिया के तमाम वैज्ञानिक इस जानलेवा वायरस से निपटने के लिए दवाईयां और वैक्सीन बनाने में जुटे हुए हैं. लेकिन अभी तक पूरी तरह से कामयाबी नहीं मिली है. दुनियाभर में कोरोना वायरस से अब तक 64,732 लोगों की जान जा चुकी है और 1,202,609 लोग संक्रमित हो गए हैं.

अमेरिका ने जिस दवाई यानी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन का भारत को ऑर्डर दिया है वह दवाई कई दशक से मलेरिया के उपचार के लिए इस्तेमाल की जा रही है. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कुछ शुरुआती परिणामों के आधार पर ही कोरोना वायरस के इलाज के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन का उपयोग करने पर जोर दिया है. पिछले शनिवार को अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन से तुरंत मंजूरी के बाद, कुछ अन्य दवा के संयोजन के साथ मलेरिया की दवा का उपयोग करके न्यूयॉर्क में लगभग 1,500 कोरोना रोगियों का उपचार किया जा रहा है.

ओडिशा: तबलीगी जमात मरकज से लौटा शख्स कोरोना पॉजिटिव, पूरे गांव को किया गया सील

कोरोना वायरस: दुनियाभर में 64 हजार से ज्यादा मौतें, अमेरिका में एक दिन में गईं सबसे अधिक जान

कोरोना वायरस से देश में 68 की मौत, अब तक 2902 लोग संक्रमित, 184 मरीज हुए ठीक

First published: 5 April 2020, 10:45 IST
 
अगली कहानी