Home » इंटरनेशनल » Countries that say they haven't had a single coronavirus case
 

दुनिया के वो 10 देश जहां नहीं है कोरोना वायरस का एक भी मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 August 2020, 22:54 IST

चीन के वुहान शहर से फैले कोरोना वायरस के असर के कारण पूरी दुनिया परेशान है. इस वायरस के कारण अभी तक पूरी दुनिया में 8 लाख से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं जबकि 2 करोड़ 30 लाख के करीब लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं. कोरोना वायरस के कारण कई देश बुरी तरब से प्रभावित हैं तो कई देश ऐसे हैं जहां अब स्थिति सामान्य हो रही है, लेकिन क्या आपको पता है कि दुनिया में अभी भी ऐसे देश हैं जहां कोरोना वायरस का एक भी मामला सामने नहीं आया है. जिन देशों में कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया हैं, वहां की सरकारों ने वायरस से लड़ने के लिए अपने यहां पर कड़े प्रतिबंध लगाए हुए हैं.

समोआ


पोलिनेशियन द्वीप देश, जिसकी आबादी लगभग 200,000 लोगों की है, उसने अपने यहां पर एक भी कोरोना वायरस की पुष्टी नहीं की है. समोआ ने अपने यहां पर मार्च में अपनी सीमाओं को बंद कर दिया था और आपातकाल की स्थिति घोषित की. इस दौरान नौका और जहाज को भी देश में आने की अनुमति नहीं थी. समोआ की सीमाएं कब खुलेंगी, इसके बारे में कोई सूचना नहीं है.

सोलोमन द्वीप समूह

सोलोमन द्वीप समूह, द्वीपों की एक श्रृंखला से बना एक देश हैं और जब पूरे विश्व में कोरोना वायरस विस्फोट हुआ उसने अपने यहां पर कई तरह के प्रतिबंधों की घोषणा कर दी थी. इस देश में अभी तक एक भी कोरोना वायरस का केस सामने नहीं आया है. हालांकि, अब यह देश अपने यहां पर टूरिस्टों को वापस लाने पर विचार कर रहा है.

वानुअतु

दक्षिण प्रशांत द्वीप वानुअतु ने एक भी कोरोनावायरस का केस सामने नहीं आया है. इसने मार्च में आपातकाल की स्थिति घोषित की जो 2020 के अंत तक चलेगी. सरकार अभी भी अपनी योजना पर लगातार विचार कर रही है, जिसका अर्थ है कि इसके लक्ष्य है "वानुअतु में आने वाले वायरस को रोकना" और "देश में पाए गए किसी भी व्यक्ति को अलग करना है जिन्होंने COVID-19 वायरस फैलाया है.

तुवालु

लगभग 12,000 लोगों के पोलिनेशियन द्वीप देश में कोई कोरोना वायरस का मामला सामने नहीं आया है.

टोंगा

पोलिनेशियन देश टोंगा, जो द्वीपों की एक श्रृंखला से बना है, जिसकी आबादी 100,000 से अधिक है, वहां पर अभी भी कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है. मार्च के बाद से, टोंगा ने अपने निवासियों को क्वरंटाइन किया, कर्फ्यू लागू कर दिया, बड़े समूहों और संपर्क खेलों पर प्रतिबंध लगा दिया, और देश में वायरस प्रवेश करने के मामले में सामाजिक दूरी बढ़ाने का आग्रह किया.

टोंगा ने मार्च में उड़ानों और क्रूज जहाजों के लिए अपनी सीमाओं को भी बंद कर दिया. मार्च की शुरुआत में यह एक संदिग्ध मामला सामने आया था, लेकिन बाद में कहा गया कि उस व्यक्ति को कोरोना वायरस नहीं है.

इन देशों के अलावा जहां कोरोना वायरस ने दस्तक नहीं दी है उसमें प्रशांत द्वीप राष्ट्र किरिबाती, मार्शल द्वीप समूह, संघीय राज्य माइक्रोनेशिया, प्रशांत द्वीप राष्ट्र नाउरू और पलाऊ शामिल है.

पाकिस्तान का उच्चायुक्त निकला असली 'नटवरलाल', इंडोनेशिया में बेच दी पाकिस्तानी एम्बेसी

First published: 24 August 2020, 21:54 IST
 
अगली कहानी