Home » इंटरनेशनल » culprits who are sexually exploited with children will be impotent in alabama
 

यौन शोषण के खिलाफ यहां उठाया गया बड़ा कदम, अपराधी को बनाया जाएगा नपुंसक

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 June 2019, 12:11 IST

रेप और यौन शोषण की घटनाएं आए दिन बढ़ती जा रही है. बच्चों के साथ यौन शोषण एक घिनौना अपराधा है. ऐसी घटनाएं हर रोज एक ना एक सुनने को मिल ही जाती हैं. अब ऐसे घिनौने अपराध के लिए अमेरिका के एक राज्य अलबामा ने बड़ा कदम उठाया है.

अलबामा ने यौन शोषण की बढ़ती घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए नया कानून बनाया गया है. इस कानून के तहत अब अलबामा में अगर किसी बच्चों का यौन शोषण होता है, तो यौन शोषण के आरोपी को नपुंसक बनाया जाएगा.

अलबामा राज्य के इस विधेयक के अनुसार, अगर 13 साल से कम उम्र के बच्चों के यौन शोषण की घटना हुई, तो इस घटना के दोषी को केमिकल युक्त दवाओं का इंजेक्शन लगाकर उसे नपुंसक बना दिया जाएगा.

अलबामा के गवर्नर काय इवे ने सोमवार को 'केमिकल कैस्ट्रेशन' विधेयक को हरी झंडी दे दी. इस विधेयक पर हस्ताक्षर करते हुए उन्होंने कहा, "कठोर अपराध की सजा भी कठोर होनी चाहिए. इससे अपराधियों के मन में डर बैठेगा."

इस विधेयक के अनुसार, यौन शोषण के दोषी को जेल से रिहा करने से कुछ समय पहले या फिर पैरोल देने से एक महीने पहले केमिकल इंजेक्शन लगा दिया जाएगा. ये दवा दोषी के शरीर में टेस्टोस्टेरोन पैदा नहीं होने देगी. इस इंजेक्शन के लगने से दोषी पूरी तरह नपुंसक हो जाएगा.

 

बता दें कि ये कानून सिर्फ अलबामा में ही नहीं, बल्कि इंडोनेशिया और साउथ कोरिया में पहले से ही बन चुके हैं. यहां यौन शोषण के दोषी को नपुंसक बना दिया जाता है. यह कानून द. कोरिया में 2011 और इंडोनेशिया में 2016 से ही लागू है.

सरकार के खिलाफ कर रहे प्रदर्शन, जवानों ने किया 70 महिलाओं के साथ रेप

किम जोंग ने अपने जनरल को नरभक्षी मछलियों के टैंक में फेंकवाया, दी रूह कंपाने वाली मौत

First published: 12 June 2019, 12:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी