Home » इंटरनेशनल » Donald Trump condemned the assassination of Russia's ambassador Andrey Karlov
 

ट्रंप: तुर्की और जर्मनी में हमले के बाद सभ्य दुनिया को बदलनी होगी सोच

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 December 2016, 13:06 IST
(फाइल फोटो )

अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तुर्की में रूसी राजदूत आंद्रे कार्लोव और जर्मनी की राजधानी बर्लिन के क्रिसमस मार्केट में हुए हमले की कड़ी निंदा की है. ट्रंप ने इसके लिए कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद को जिम्मेदार बताया है.

डोनाल्ड ट्रंप की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि हमला कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवादी द्वारा किया गया है और यह सभी सभ्य आदेश के नियमों का उल्लंघन है. ट्रंप ने कहा कि हमारी प्रार्थना और संवेदनायें शोक संतप्त परिवार के साथ है.

ट्रंप ने ट्वीट करते हुए लिखा, "आज तुर्की, स्विटजरलैंड और जर्मनी में आतंकी हमले हुए हैं और यह बद से बदतर होता जा रहा है. सभ्य दुनिया को अपनी सोच बदलनी होगी."

'शांति प्रयासों को पटरी से उतारने की कोशिश'

दूसरी तरफ रूस के राष्‍ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूसी राजदूत की हत्या को शांति प्रक्रिया को पटरी से उतारने की कोशिश बताया है. पुतिन ने एक बयान जारी करते हुए कहा है कि यह रूस और तुर्की के संबंधों को खराब करने के साथ ही सीरिया समस्‍या के समाधान के लिए मॉस्‍को के ईरान और तुर्की के साथ किए जा रहे प्रयासों को पटरी से उतारने की कोशिश है.

रूसी विदेश मंत्रालय ने इसे ‘आतंकी कृत्य’ बताया है. विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मारिया जखारोवा ने कहा कि अंकारा में एक हमले में रूसी राजदूत आंद्रे कार्लोव घायल हो गए, जिससे उनकी मौत हो गई. उन्‍होंने कहा कि हत्‍यारों को दंडित किया जाएगा. हत्‍यारा बख्‍शा नहीं जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून ने तुर्की में हुई रूसी राजदूत की हत्या की निंदा करते हुए कहा कि वह आतंक के इस निर्मम कृत्य से हैरान हैं.

महासचिव के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा, "बान आतंक के इस बर्बर कृत्य से हैरान हैं और उन्होंने इस बात पर जोर दिया है कि राजनय कर्मियों और असैन्य नागरिकों को निशाना बनाए जाने को किसी भी तरह सही नहीं ठहराया जा सकता."

First published: 20 December 2016, 13:06 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी