Home » इंटरनेशनल » donald trump told my first choice america, second world
 

डोनाल्ड ट्रंप: मेरे लिए पहले अमेरिका बाद में दुनिया, आईएस को हराएंगे

कैच ब्यूरो | Updated on: 22 July 2016, 16:23 IST
(एजेंसी )

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह राष्ट्रपति बनने के बाद विश्व में अमेरिका को प्राथमिकता में सबसे ऊपर रखेंगे.

इसके साथ ही 70 वर्षीय ट्रंप ने स्वयं को कानून व्यवस्था के लिए उम्मीदवार करार दिया और आईएस को जड़ से मिटाने का संकल्प लिया.

उन्होंने अपने मेक्सिको की सीमा पर दीवार बनाने का संकल्प दोहराया और जोर दिया कि आतंकवाद के मामले पर समझौता करने वाले देशों से आव्रजन पर तत्काल रोक लगाई जानी चाहिए.

ट्रंप ने ‘विनम्रता एवं कृतज्ञता’ के साथ नामांकन स्वीकार करते हुए इस्लामी आतंकवाद एवं इस्लामिक स्टेट को हराने का वायदा किया, लेकिन देश में मुस्लिमों के प्रवेश पर पूर्ण प्रतिबंध के अपने पहले के रुख को थोड़ा नरम कर दिया.

ट्रंप ने कहा कि उनकी योजना अमेरिका को प्राथमिकता में सबसे ऊपर रखने की है. उन्होंने कहा, "मेरा सिद्धांत होगा अमेरिका पहले और दुनिया बाद में."

ट्रंप ने लोगों की तालियों की जोरदार गड़गड़ाहट के बीच कहा, "यदि ऐसे नेता हमारा नेतृत्व करते हैं, जो अमेरिका को प्राथमिकता नहीं देते, तो हमें इस बात को लेकर आश्वास्त हो जाना चाहिए कि अन्य देश अमेरिका को वह सम्मान नहीं देंगे, जिसका वह हकदार है."

उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा पर नस्ली आधार पर फूट के बीज बोने का आरोप लगाते हुए कहा, "व्हाइट हाउस के इस मुकाबले में मैं कानून एवं व्यवस्था का उम्मीदवार हूं."

ट्रंप ने कहा, "राष्ट्रपति पद का इस्तेमाल हमें नस्लों एवं रंगों में बांटने के लिए करने वाले हमारे राष्ट्रपति की गैरजिम्मेदाराना बयानबाजी ने अमेरिका में ऐसा माहौल पैदा कर दिया है जो सभी के लिए खतरनाक है."

उन्होंने कहा, "हमारा देश जिस अपराध एवं हिंसा से आज जूझ रहा है, वह जल्द ही, मेरा मतलब है कि बहुत जल्द ही, समाप्त हो जाएगी."

ट्रंप ने अपनी डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन को अयोग्य करार दिया. उन्होंने कहा, "हिलेरी क्लिंटन की विरासत है: मौत, विनाश, आतंकवाद और कमजोरी की."

First published: 22 July 2016, 16:23 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी