Home » इंटरनेशनल » Drone attack on Saudi Aramco oil plants US blames Iran
 

दुनिया की सबसे बड़ी तेल कंपनी अरामको पर ड्रोन हमले के बाद तेल उत्पादन में भारी कटौती

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 September 2019, 9:12 IST

सऊदी अरब की सरकारी तेल कंपनी अरामको के दो बड़े ठिकानों पर ड्रोन हमले की खबर है. ड्रोन हमला होने के सऊदी अरब में तेल उत्पादन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. खबरों के मुताबिक, इस हमले के चलते तेल उत्पादन में हर दिन 50 लाख बैरल की कमी आने की संभावना है. यह सऊदी अरब के कुल तेल उत्पादन का आधा है. वहीं सऊदी अरब की सरकारी मीडिया का कहना है कि इस हमले में दोनों प्रतिष्ठानों में भीषण आग लग गई.

मीडिया द्वारा जारी की गईं घटना की तस्वीरों में देखा जा सकता है कि अरामको की सबसे बड़ी रिफाइनरी वाले इलाके बकीक के ऊपर धुएं के गुब्बार और आग की लपटें देखी गई है. इसके अलावा दूसरा ड्रोन हमला खुरैस तेल क्षेत्र में हुआ. धमाके के बाद वहां आग लग गई. सरकारी मीडिया के मुताबिक, दोनों प्रतिष्ठानों में आग पर काबू पा लिया गया है. बता दें कि अरामको दुनिया की सबसे बड़ी तेल कंपनी है.

अरामको पर ड्रोन हमले का बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सऊदी अरबके क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान अल सौद से फोन पर बातचीत की. इस दौरान दोनों के बीच हमलों और सऊदी अरब की आत्मरक्षा पर चर्चा हुई. ट्रंप ने कहा कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि यमन से ये हमले हुए. यमन के हूती विद्रोहियों के इन ड्रोन हमलों की जिम्मेदारी लेने का दावा करने के कुछ घंटों बाद पोम्पियो के ट्वीट करके ये बात कही.

बता दें कि यमन के ईरान समर्थित हूती लड़ाकों पर पहले हुए हमलों के आरोप लगते रहे हैं. हालांकि इस हमले के पीछे किसका हाथ हो सकता है इस बारे में सऊदी मीडिया में कोई जिक्र नहीं है. वहीं यमन में ईरान से जुड़े हूती ग्रुप के एक प्रवक्ता ने कहा है कि हमले के लिए 10 ड्रोन भेजे गए थे. सैन्य प्रवक्ता याह्या सारए ने अल-मसिरह टीवी से कहा कि सऊदी पर भविष्य में ऐसे हमले और हो सकते हैं. याह्या ने कहा, ''यह हमला बड़े हमलों में से एक है जिसे हूती बलों ने सऊदी के भीतर अंजाम दिया. इस हमले में सऊदी शासन के भीतर के प्रतिष्ठित लोगों की मदद मिली है.'' हालांकि सऊदी के अधिकारियों ने हूती के दावे पर कोई टिप्पणी नहीं की है.

इमरान खान का बड़ा कबूलनामा- पाकिस्तान ने दिया आतंकियों को ट्रेनिंग, अमेरिका से मिला था पैसे

First published: 15 September 2019, 9:12 IST
 
अगली कहानी