Home » इंटरनेशनल » Drowned migrant father and daughter photo at US border goes viral
 

आपकी आंखों को गीला कर देगी नदी किनारे पानी में मिले बाप-बेटी के शव की ये तस्वीर

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2019, 14:11 IST

हर साल लाखों लोग अपना देश छोड़कर दूसरे देशों की ओर रुख करते हैं जिससे अपने जीवन यापन को बेहतर बनाया जा सके, लेकिन किसी आपदा या गृह युद्ध जैसे हालतों की वजह से देश छोड़ने वाले लोगों की संख्या भी कम नहीं है. हर साल इन वजहों से हजारों की संख्या में लोग पलायन कर दूसरे देश अवैध तरीकों से प्रवेश कर जाते हैं. ऐसा ही कुछ देखने को मिलता है अमेरिका में जहां मैक्सिको के हजारों लोग हर साल शरणार्थी बन कर पहुंचे हैं. जिससे उनका जीवन अपने देश से बेहतर तरीके से कट सके. लेकिन अमेरिकी प्रतिबंधों चलते यहां रह रहे शरणार्थियों को अब अपने देश वापस जाना पड़ रहा है.

ऐसे ही शरणार्थियों की एक तस्वीर दुनियाभर में वायरल हो रही है. जिसे देखकर हर किसी की आंख में आसूं है. ये तस्वीर एक पिता और उसकी मासूम बेटी की है जो नदी किनारे पानी में मुंह के बल पड़े हुए हैं. मौत के बाद ली गई इस तस्वीर ने एक बार फिर से शरणार्थियों की स्थिति के बारे में दुनिया को सचेत होने के संकेत दिए हैं.


ये तस्वीर एल सल्वाडोर के रहने वाले ऑस्कर एलबेर्तो मारटिनेज रैमिरेज और उनकी 23 महीने की मासूम बेटी वलेरिया की है. इस तस्वीर को मैक्सिको के एक अखबार ने छापा है. बता दें कि एल सल्वाडोर सेंट्रल अमेरिका का देश है यहां के हजारों लोग हर साल पलायन कर पड़ोसी देशों में चले जाते हैं.

इस तस्वीर को देखकर किसी की भी आंखों में आंसू आ जाएंगे. तस्वीर में देखा जा सकता है कि नदी किनारे पानी में घास के एक शख्स और एक बच्ची मुंह के बल पड़े हुए हैं. जो पिता और बेटी हैं. पिता ने अपनी काली टी-शर्ट में बच्ची को घुसा रखा है जिससे नदी पार करते वक्त बच्ची पानी में ना गिरे और सुरक्षा रहे, लेकिन इनकी किस्मत में कुछ और ही लिखा था जो इनकी दर्दनाक मौत नदी के पानी में ही हुई. बता दें कि रियो ग्रांड नाम की ये नदी अमेरिका और मैक्सिको के बॉर्डर के पास स्थित है.

खबरों के मुताबिक, रैमिरेज पिछले काफी समय से अपने परिवार के साथ अमेरिका में आने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन हर बार उन्हें नाकामयाबी मिली. इसी के चलते वह परेशान थे. बताया जा रहा है कि रविवार को जब वह नदी पार कर रहे थे, तो कुछ देर के लिए किनारे पर बैठ गए और अपनी पत्नी का इंतजार करने लगे. इसी दौरान उनकी बेटी वेलेरिया पानी में गिर गई. बेटी को बचाने के लिए उन्होंने पानी में छलांग लगा दी और नदी में आगे बढ़ते गए.

इसी चलते वह दलदल नुमा जगह पर पहुंच गए जहां से वो कभी निकल नहीं पाए और दोनों बाप-बेटी मौत के गाल में समा गएजब सोमवार को दोनों के शव मिले तब बच्ची की बांह अपने पिता के चारों ओर लिपटी हुई थी. इन बाप बेटी की मौत की मुख्य वजह भले ही कोई पानी में डूबना माने लेकिन दोनों की मौत अमेरिकी वीजा नीति में बदलाव का नतीजा हैं. जो अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने शुरु की हैं.

First published: 26 June 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी