Home » इंटरनेशनल » F 16 Fighter plane against India US State Department Said Following issue very closely
 

F-16 लड़ाकू विमान को लेकर अमेरिका हुआ गंभीर, बारीकी से जांच करने की कही बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 March 2019, 10:33 IST

F-16 लड़ाकू विमानों को लेकर अमेरिका सख्त रुख अपना रहा है. इस बात की जानकारी खुद अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने दी है. पैलाडिनो ने कहा कि है हम रिपोर्टों की बारीकी से जांच कर रहे हैं. दरअसल, ये मामला तब से सुर्खियों में बना हुआ है जब पाकिस्तान की ओर से एफ-16 लड़ाकू विमान भारत के खिलाफ भेजे गएबुधवार को पैलाडिनो ने कहा कि यह अमेरिका के लिए एक गंभीर मुद्दा है. इसलिए हम इस पर बारीकी से जांच कर रहे हैं.

बता दें कि पुलवामा हमले के बाद भारत ने पीओके में एयर स्ट्राइक किए जाने के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ F-16 लड़ाकू विमान भेजा था. जिसका पीछा करते हुए भारतीय वायु सेना ने इस विमान को मार गिराया था. हालांकि, पाकिस्‍तानी वायु सेना ने इसका खंडन किया था, लेकिन भारत ने F-16 लड़ाकू विमान के टूटे हुए कुछ हिस्‍सों के सबूत पेश किए. भारतीय वायु सेना ने यह सिद्ध कर दिया कि पाकिस्‍तान ने भारतीय सैन्‍य ठिकानों को निशाना बनाने के लिए अपने F-16 लड़ाकू विमान इस्‍तेमाल किया थे. हालांकि, पाकिस्‍तान बार-बार इस बात को मानने से इंकार करता रहा है.

अमेरिकी विदेश विभाग के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने कहा, "हमने उन रिपोर्टों को देखा है और हम इस मामले को बहुत बारीकी से देख रहे हैं." उन्होंने कहा कि, “मैं किसी भी चीज की पुष्टि नहीं कर सकता, लेकिन नीतिगत तौर पर हम अन्य देशों के साथ द्विपक्षीय समझौतों की सामग्री पर सार्वजनिक रूप से टिप्पणी नहीं करते हैं. इस मुद्दे में न तो अमेरिकी रक्षा प्रौद्योगिकियों और न ही संचार के बारे में कोई टिप्पणी कर सकते हैं."

आधिकारिक सूत्रों ने मंगलवार को बताया कि उन्होंने पाकिस्तान द्वारा भारत के सैन्य प्रतिष्ठानों पर 27 फरवरी को हुए असफल हमले में अमेरिकी एफ-16 विमानों और एमराम मिसाइल कs इस्तेमाल करने के साक्ष्य अमेरिका को सौंप दिए हैं. उन्होंने बताया कि भारत इस बात को लेकर निश्चिंत है कि वाशिंगटन इस मामले की तह तक जाएगा कि पाकिस्तान ने अमेरिका निर्मित लड़ाकू विमान के साथ, हवा से हवा में मार करने वाली एमराम मिसाइल का इस विमान से भारत के खिलाफ इस्तेमाल किया है.

पुलवामा हमले को दुर्घटना कहने पर बोले दिग्विजय सिंह, कहा- हिम्मत है तो केस दर्ज करें

First published: 6 March 2019, 10:33 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी