Home » इंटरनेशनल » Facebook data leak: Zuckerberg apologized by saying this in the US Congress
 

facebook डेटा लीक : जकरबर्ग ने अमेरिकी कांग्रेस में ये कहकर मांगी माफ़ी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 April 2018, 12:17 IST

फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने तीसरे ऐप को अनुमति के बिना अपने यूजर्स डेटा देने के लिए अमेरिकी कांग्रेस के सामने माफ़ी मांगी है. अब फेसबुक के संस्थापक को अमेरिकी सीनेट के सामने माफ़ी मांगनी है. जकरबर्ग मंगलवार को सेनेट कॉमर्स ऐंड जूडिशरी कमिटियों के सामने और बुधवार को हाउस एनर्जी ऐंड कॉमर्स कमिटी के सामने पेश होंगे. 

इससे पहले सोमवार को जकरबर्ग ने कांग्रेस में दिए गए अपने बयान को जारी किया. इस बयान में जकरबर्ग ने कहा है कि कैंब्रिज एनालिटिका मामले में जो हुआ, वैसा दोबारा होने से रोकना कंपनी की जिम्मेदारी है. इस बात पर जोर दिया कि फेसबुक को सुरक्षा के लिए इससे ज्यादा उपाय करने चाहिए थे. जकरबर्ग ने कहा, 'यह मेरी गलती थी और मैं माफी चाहता हूं. मैंने फेसबुक शुरू किया, मैंने इसे चलाया और यहां जो भी होता है उसके लिए मैं जिम्मेदार हूं.'

इससे पहले फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग ने डाटा लीक के मामले में सार्वजनि‍क तौर पर माफी भी मांगी थी. न्यूयॉर्क टाइम्स और लंदन के ऑब्जर्वर ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि 2016 में अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प के लिए काम करने वाली ‘कैम्ब्रिज एनालिटिका’ पर लगभग 5 करोड़ फेसबुक यूजर्स की निजी जानकारी चुराई.  इस जानकारी को चुनाव के दौरान इस्तेमाल किया गया है. इसके बाद अमेरिकी और यूरोपीय अधिकारियों ने भी फेसबुक से जवाब-तलब किया.

 मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर अलैक्जेंडर कोगन ने साल 2015 में एक ऐप बनाकर चुनाव को लेकर वोटर्स के रुझान और पसंद-नापसंद के बारे में खासी डिटेल्स इकट्ठा की थी. उन्होंने बाद में डाटा को कैम्ब्रिज ऐनालिटिकल और उसकी मुख्य कंपनी स्ट्रैटजिक कम्युनिकेशंस समेत तीसरी पार्टी को बेच दिया.
 
 

First published: 10 April 2018, 12:17 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी