Home » इंटरनेशनल » Facebook, Twitter have 1 hour to remove terror posts: EU bill
 

यूरोपियन यूनियन ने Facebook और Twitter को दिया ये बड़ा आदेश, ऐसा नहीं किया तो लगेगा जुर्माना

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 September 2018, 17:00 IST

यूरोपीय यूनियन ने बुधवार को एक महत्वपूर्ण आदेश में कहा कि अब फसेबूक और ट्विटर को आतंकी गतिविधियों के प्रचार से जुड़े पोस्ट्स को एक घंटे के अंदर हटाना होगा, अन्यथा इन सोशल मीडिया साइट्स पर बड़ा जुर्माना लगाया जायेगा. यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जीन-क्लाउड जुनेकर द्वारा प्रस्तावित कानून ने ब्रुसेल्स को इस तरह की सामग्री को स्वेच्छा से हटाने के लिए इंटरनेट फर्मों पर भरोसा करने के बाद एक कठिन दृष्टिकोण दिखाया है.  इंटरनेट हाल के वर्षों में यूरोपीय शहरों में सैकड़ों लोगों को मारने वाले हमलों से निपटने वाले चरमपंथियों के लिए एक प्रमुख साधन बन गया है.

 

ईयू की कार्यकारी शाखा ने कहा कि अकेले जनवरी में इस्लामी स्टेट से आतंकवादी प्रचार के लगभग 7,000 नए पोस्ट्स ऑनलाइन प्रसारित हुए, भले ही इसे इराक और सीरिया में अपने अधिकांश गढ़ों से हटा दिया गया था. आयोग के प्रस्ताव ने राष्ट्रीय अधिकारियों को ऐसा करने के आदेश देने के बाद फर्मों को आतंकवादी सामग्री को हटाने के लिए "कानूनी रूप से बाध्यकारी एक घंटे की समयसीमा की मांग की.

यह सामग्री को परिभाषित करता है जो आतंकवादी अपराधों को उत्तेजित करता है या वकालत करता है, आतंकवादी समूह की गतिविधियों को बढ़ावा देता है या हमलों के लिए निर्देश प्रदान करता है. लेकिन यह सामग्री प्रदाता किसी आदेश के साथ असहमत होने पर न्यायिक समाधान के साधन भी प्रदान करता है.

आयोग ने कहा, "ऑनलाइन आतंकवादी सामग्री को हटाने के आदेशों का पालन न करने के लिए सदस्य देशों को प्रभावी, आनुपातिक और विचलित दंड लगाएंगे."अब तक, ब्रसेल्स ने उद्योग को खुद को नियंत्रित करने के लिए प्रेरित किया था, लेकिन यूरोपीय संघ के अधिकारियों ने फेसबुक, ट्विटर, माइक्रोसॉफ्ट और Google के यूट्यूब जैसी कंपनियों को मिश्रित समीक्षा दी है.

First published: 12 September 2018, 16:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी