Home » इंटरनेशनल » Finance Minister Arun Jaitley to not attend SAARC FM conference in Pakistan
 

सार्क देशों के वित्त मंत्रियों की बैठक में पाकिस्तान नहीं जाएंगे जेटली!

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:48 IST
(फाइल फोटो)

पाकिस्तान और भारत के बीच अब द्विपक्षीय संबंध बुरे दौर में पहुंचते दिख रहे हैं. लाल किले से स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी द्वारा बलोचिस्तान के जिक्र के बाद अब खबर है कि दक्षिण एशियाई सहयोग संगठन (सार्क) के देशों के वित्त मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली पाकिस्तान नहीं जाएंगे. 

सरकारी सूत्रों के हवाले से खबर है कि सार्क देशों के वित्‍त मंत्रियों की बैठक शिरकत करने के लिए वित्‍त मंत्री अरुण जेटली पाकिस्‍तान नहीं जाएंगे. उनकी जगह आर्थिक मामलों के सचिव शक्ति‍कांत दास भारत की ओर से बैठक में नुमाइंदगी करेंगे.

भारत-पाक द्विपक्षीय संबंधों में मौजूदा अशांत माहौल के बीच यह बैठक 25 और 26 अगस्त को इस्लामाबाद में होनी है. पिछले दिनों पाकिस्तानी वित्त मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि इस दौरान पाकिस्तान के वित्त मंत्री इसहाक डार अपने भारतीय समकक्ष से सौहार्दपूर्ण ढंग से हाथ मिला सकते हैं.

पाकिस्तानी वित्त मंत्रालय ने कहा, "सरकार ने आगामी सार्क सम्मेलन की तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया है. पाकिस्तान अच्छे मेजबान की भूमिका अदा करेगा और पूरे माहौल को सकारात्मक बनाए रखने का प्रयास करेगा."

राजनाथ के दौरे पर हुआ था विवाद

इसी महीने सार्क देशों के गृह मंत्रियों की बैठक के दौरान माहौल उस वक्त तनावपूर्ण हो गया था, जब राजनाथ सिंह के संबोधन को पाकिस्तानी मीडिया ने ब्लैक आउट कर दिया था.

यही नहीं कॉन्फ्रेंस के दौरान जब राजनाथ के बोलने की बारी आई, तो मीडिया को कवरेज से रोक दिया गया. पाकिस्तानी गृह मंत्री चौधरी निसार अली खान ने मेजबान होने के बावजूद लंच में शिरकत नहीं की थी. जिसके बाद राजनाथ बिना लंच किए दिल्ली रवाना हो गए थे.

लोकसभा में राजनाथ सिंह ने इस पर आधिकारिक बयान देते हुए कहा था कि वे वहां लंच करने के लिए नहीं गए थे. सार्क सम्मेलन के अलावा राजनाथ ने संसद में भी पाकिस्तान पर आतंकवाद को लेकर जमकर निशाना साधा था. राजनाथ ने कहा था कि एक देश का आतंकी दूसरे देश का स्वतंत्रता सेनानी कैसे हो सकता है? 

First published: 16 August 2016, 2:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी