Home » इंटरनेशनल » First Patient of Corona virus Positive: Wei Guixian who is seller of shrimp in Wuhan
 

चीन में सबसे पहले ये महिला हुई थी कोरोना पॉजिटिव, उसके बाद दुनियाभर में मच गई तबाही

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 March 2020, 10:11 IST

First Corona Positive Person in the world: कोरोना वायरस (Corona Virus) अब तक दुनिया के देश में पहुंच चुका है और तबाही मचा रहा है. चीन (China) के वुहान शहर (Wuhan City) से फैला कोरोना अब तक करीब 34,000 लोगों की जान ले चुका है. इनमें से अकेले 10,700 से अधिक मौतें इटली (Italy) में हुई हैं. दुनिया भर में अब तक सात लाख से ज्यादा लोग कोरोना से संक्रमित (Corona Infected) हो चुके हैं. चीन में भले ही मौत और संक्रमण (Infection) का खतरा कम हो गया है, लेकिन दुनिया के तमाम देशों में अभी भी कोरोना (Corona) का कहर कम नहीं हुआ है.

इस बीच दुनिया के ऐसे पहले व्यक्ति का पता चला है जिसे सबसे पहले कोरोना वायरस का संक्रमण हुआ था और उसके बाद के हालात आज हम सबके सामने हैं. जानकारी के मुताबिक, चीन के वुहान शहर में ही सबसे पहले झींगा बेचने वाली 57 साल की एक महिला कोरोना वायरस की चपेट में आई थी. उसके बाद एक के बाद एक शख्स कोरोना का शिकार होता गया और ये संख्या बढ़कर सात लाख से ज्यादा हो गई.


मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सबसे पहले कोरोना पॉजिटिव हुई ये महिला अब ठीक हो चुकी है. एक महीने तक उसका इलाज किया गया और उसके बाद वह ठीक हो गई. महिला का कहना है कि यदि चीन की सरकार ने जल्दी कार्रवाई की होती, तो इस बीमारी को फैलने से रोका जा सकता था. 'द वॉल स्ट्रीट जरनल' ने वी गुइजियान (Wei Guixian) की पहचान कोरोना के पहले मरीज के तौर पर की गई है. महिला को पिछले साल जब दस दिसंबर को हल्का बुखार आया, उस दौरान वह वुहान के सीफूड मार्केट में झींगा बेच रही थी.

मिरर यूके की रिपोर्ट के मुताबिक, जब महिला को बुखार आया तो उसे लगा कि ये सामान्य बुखार होगा और इसीलिए वह इलाज के लिए स्थानीय क्लीनिक गई, जहां उसे एक इंजेक्शन दिया गया. इसके बाद भी, गुइजियान लगातार कमजोरी महसूस कर रही थी और अगले दिन वह बुहान के इलेवेन्थ हॉस्पिटल गई. वहीं भी उसकी तबियत में कोई सुधार नहीं हुआ. उसके बाद गुइजियान 16 दिसंबर को उस क्षेत्र के सबसे बड़े मेडिकल सुविधाओं वाले वुहान यूनियन हॉस्पिटल गई. यूनियन हॉस्पिटल में गुइजियान को बताया गया कि उनकी बीमारी असहनीय है और हुनान प्रांत से ऐसे ही लक्षण वाले कई लोग उस अस्पताल में पहुंचे थे.

उसके बाद दिसंबर के आखिरी में गुइजियान को उस वक्त क्वारंटाइन कर दिया गया जब डॉक्टरों ने पाया कि यह कोरोना वायरस है और उन्होंने इसे सीफूड मार्केट से जोड़ा. मिरर ने चीन के न्यूज आउटलेट 'द पेपर' के हवाले से यह बात कही गई है. 'द पेपर' में प्रकाशित उस रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि यह नया कोरोना वायरस मनुष्यों के लिए पांचवीं सबसे बड़ी महामारी बन सकती है.

कोरोना वायरस: दुनियाभर में अब तक 33,900 से ज्यादा मौतें, भारत में मरने वालों की 27 हुई संख्या

Coronavirus: राहुल गांधी का PM मोदी को पत्र- COVID 19 से लड़ने के लिए सरकार के साथ

जर्मनी: कोरोना महामारी से हो रहे आर्थिक नुकसान के चलते वित्त मंत्री ने की आत्महत्या

First published: 30 March 2020, 10:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी