Home » इंटरनेशनल » Former Pak Army chief Raheel Sharif appointed chief of anti-terror Islamic military alliance
 

पाकिस्तान के पूर्व आर्मी चीफ राहिल बने 39 देशों के इस्लामी सैन्य गठबंधन के प्रमुख

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 January 2017, 10:54 IST
(फाइल फोटो )

हाल ही में रिटायर हुए पाकिस्तान के पूर्व सेना प्रमुख जनरल राहिल शरीफ को 39 मुस्लिम देशों की गठबंधन सेना का प्रमुख नियुक्त किया गया है. इस सैन्य गठबंधन का गठन आतंकवाद से लड़ने के लिए किया गया है.

इसकी जानकारी पाकिस्तान के रक्षामंत्री ख्वाजा आसिफ ने शुक्रवार को दी. राहिल नवंबर में सेना प्रमुख के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं और उनकी जगह जनरल कमर जावेद बाजवा पाक सेना के नए प्रमुख बने हैं.

जियो टीवी पर एक कार्यक्रम के दौरान बातचीत करते हुए रक्षामंत्री आसिफ ने बताया कि इस संबंध में कुछ ही दिनों पहले एक समझौता हुआ था. आसिफ ने कहा कि सरकार को विश्वास में लेने के बाद यह निर्णय किया गया और फिर इसे अंतिम रूप दिया गया. आसिफ ने कहा कि जनरल शरीफ की नियुक्ति से जुड़ा यह फैसला नवाज शरीफ सरकार को भरोसे में लेने के बाद ही लिया गया.

रक्षा मंत्री आसिफ ने जियो टीवी को बताया कि इस तरह की नियुक्ति के लिए सरकार और सैन्य मुख्यालय की ओर से सहमति मिलनी अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि राहील शरीफ को यह जिम्मेदारी सौंपने के फैसले पर मुहर लगाने से पहले सभी जरूरी प्रक्रियाएं पूरी की गईं. सऊदी अरब के नेतत्व में गठित 39 राष्ट्रों के इस्लामी सैन्य गठबंधन का मुख्यालय रियाद में होगा. 

दिसंबर 2015 में आतंकवाद से निपटने के लिए पाकिस्तान सहित 30 से अधिक इस्लामी देशों ने सऊदी अरब के नेतृत्व में एक सैन्य गठबंधन का ऐलान किया था. इस गठबंधन में शुरू में 34 देश शामिल थे, लेकिन बाद में उनकी संख्या 39 हो गई.

इस सैन्य गठबंधन का मकसद इसके 39 इस्लामिक देशों के बीच सुरक्षा मामलों पर सहयोग कायम करना, प्रशिक्षण, हथियार और सैनिकों को लेकर प्रावधान तय करना और बढ़ते कट्टरपंथ से लड़ने के लिए धार्मिक जानकारों व मौलवियों की भागीदारी सुनिश्चित करना है.

इस गठबंधन के सदस्य देशों में तुर्की, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन, बांग्लादेश, ट्यूनिशिया, सूडान, मलेशिया, मिस्र और यमन भी शामिल हैं. सऊदी के धुर-विरोधी ईरान इसमें शामिल नहीं है.

First published: 7 January 2017, 10:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी