Home » इंटरनेशनल » hamid karzai sings bollywood songs in IIT kanpur
 

हामिद करजई ने गुनगुनाया 'दिल ढूंढता है फिर वही...'

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 March 2016, 20:36 IST

अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने कल देर रात आईआईटी कानपुर के टेक्निकल फेस्टिवल टेक कृति समारोह का उदघाटन किया.

इस अवसर पर अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति डॉ. हामिद करजई ने कहा कि आज अफगानिस्तान की जो दशा है उसका जिम्मेदार पाकिस्तान है, सोवियत रूस के खात्मे के बाद पाकिस्तान ने हमारे ऊपर चरमपंथ को थोपा है.

पहले तालिबान और उसके बाद पाकिस्तान के चरमपंथी विचारधारा ने अफगानिस्तान को बर्बादी की कगार पर पहुंच दिया लेकिन मैं भारत को धन्यवाद देता हूं कि वो इन सब से उबरने में हमारी मदद कर रहा है.

भारत ने दो बिलियन डालर की लागत से संसद भवन का निर्माण करके लोकतंत्र की स्थापना में हमारी मदद की है.

पूर्व राष्ट्रपति करजई ने कहा कि हर अफगानिस्तानी की दिली चाहत है कि भारत खूब तरक्की करे. क्योंकि भारत की तरक्की का सीधा फायदा हम अफगानियों को मिलता है.

करजई ने कहा कि अफगानिस्तान में ज्यादा उम्र के लोग देवानंद की स्टाइल, हेमामालिनी की अदाओं के दीवाने हैं और लता मंगेशकर के गाने बड़े ही चाहत के साथ गुनगुनाते हैं. नई पीढ़ी शाहरुख खान और सलमान खान की फैन है.

पूर्व राष्ट्रपति ने आईआईटी स्टूडेंटों के सामने ‘दिल ढूंढता है फिर वही फुरसत के रात दिन’ और ‘जिंदगी के सफर में गुजर जाते हैं जो मकाम वो फिर नहीं आते’ गीत भी गुनगुनाया.

First published: 4 March 2016, 20:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी