Home » इंटरनेशनल » Heavy car bomb blast in Kabul Afghanistan near Embassies by taliban, death toll rise 40 and 140 injured
 

तालिबान ने काबुल में किया जानलेवा बम ब्लास्ट, 102 की मौत, 200 से ज्यादा घायल

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 January 2018, 12:52 IST

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में आत्मघाती हमलावर ने शनिवार को भीड़भाड़ वाले राजनयिक इलाके में विस्फोटक भरी एंबुलेंस को उड़ा दिया. इससे 102 लोगों की मौत हो गई और 200 से ज्यादा लोग घायल हो गए. यह हाल के वर्षो में काबुल में हुए बड़े विस्फोटों से शामिल है. विस्फोट इतना भयानक था कि आस-पास के लोगों के घरों और ऑफिसों की खिड़कियां तक चटक गईं. 

काबुल में हुए बम ब्लास्ट की जिम्मेदारी आतंकी संगठन तालिबान ने ली है. अधिकारियों के मुताबिक. ये शक्तिशाली बम अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में विदेशी दूतावास और सरकारी इमारतों के पास एक एंबुलेंस में छिपा कर रखा गया था. बम ब्लास्ट के पास आसमान में सिर्फ धुंए का गुबार था और कोहराम मच गया. 

न्यूज एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शी मोहम्मद मुस्तफा ने बताया कि ये दिल दहला देने वाला विस्फोट जम्हूरियत अस्पताल के सामने शनिवार दोपहर लगभग 12.50 बजे हुआ. ये हॉस्पिटल सिदारत स्क्वेयर से कुछ मीटर दूर है.

बम ब्लास्ट की खबर के बाद पूरे इलाके को सील कर दिया है. न्यूज एजेंसी एएफपी के रिपोर्टर के मुताबिक कॉरिडोर पर चारों तरफ लाशें बिछी हुई थी. इनमें बच्चे, महिलाएॆ और आदमी शामिल थे. अफगानिस्तान के स्वास्थ मंत्रालय के प्रवक्ता वहीद मजरोह ने बताया कि इस आत्मघाती हमले में 102 लोगोंं के शहीद और 200 लोगों के घायल होने की खबर है.

आंतरिक सुरक्षा मंत्रालय के उपप्रवक्ता ने बताया कि आत्मघाती हमलावर ने चेक प्वाइंटस को पार करने के लिए एबुंलेस का इस्तेमाल किया. पहले चेक प्वाइंट पर उसने मरीज को जम्हूरियत हॉस्पिटल में एडमिट करने की बात कही. लेकिन हमलावर दूसरे चेक प्वाइंट पर पहचाना गया. पहचान जाहिर होने पर उसने खुद को एंबुलेंस सहित उड़ा दिया. 

ये विस्फोटक पिछले साल 31 मई को काबुल में डिप्लोम्टिक क्वार्टर में ट्रक से किये गए हमले जैसा था. इस  हमले के बाद आसपास चीख पुकार का माहौल हो गया. जिस जगह पर हमला हुआ वहां कई बड़े ऑफिस है, जिसमें यूरोपियन यूनियन का ऑफिस भी शामिल है.

गौरतलब है कि एक हफ्ते के भीतर तालिबान ने काबुल में बड़ा हमला किया है. 20 जनवरी को एक आलीशान होटल मे किए गए हमले में 22 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी. इसमें कई विदेशी शामिल थे. शनिवार को विदेेशियों के लिए सुरक्षा अलर्ट जारी किया गया है. इसमें बताया गया है कि इस्लामिक स्टेट ग्रुप के आतंकी पिछले कुछ महीनों से यहां है.

ये आतंकी यहां बड़े हमले करने की योजना बना रहे हैं. वो ये हमले सुपरमार्केट, दुकानों और होटलों में कर सकते है, जहां विदेशी ठहरते और घूमते हैं.

ये भी पढ़ें- यूपी: कासगंज में फिर भड़की हिंसा, बिना परमिशन तिरंगा यात्रा से शुरू हुआ बवाल

First published: 27 January 2018, 17:04 IST
 
अगली कहानी