Home » इंटरनेशनल » Hindi is a third official language of court in Abhu Dhabi
 

अबू धाबी में हिंदी का जलवा, अदालतों में तीसरी आधिकारिक भाषा बनी

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2019, 14:11 IST
(प्रतीकात्मक फोटो)

भारत के बाहर हिंदी का जलवा बढ़ता जा रहा है. कनाडा के बाद अब अबू धाबी में भी हिंदी को आधिकारिक भाषा का दर्जा प्राप्त हुआ है. हालांकि यहां हिंदी को कोर्ट में तीसरी आधिकारिक भाषा का दर्जा दिया गया है. बता दें कि हिंदी अबू धाबी में कोर्ट की अरबी और अंग्रेजी का बाद तीसरा आधिकारिक भाषा होगी. बता दें कि न्याय तक पहुंच बढ़ाने के लिए सरकार ने ये कदम उठाया है.

अबू धाबी न्याय विभाग (एडीजेडी) ने शनिवार को कहा कि उसने श्रम मामलों में अरबी और अंग्रेजी के साथ हिंदी भाषा को शामिल करके अदालतों के समक्ष दावों के बयान के लिए भाषा के माध्यम का विस्तार कर दिया है. इसका मकसद हिंदी भाषी लोगों को मुकदमे की प्रक्रिया, उनके अधिकारों और कर्तव्यों के बारे में सीखने में मदद करना है. आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, संयुक्त अरब अमीरात की आबादी का करीब दो तिहाई हिस्सा विदेशों के प्रवासी लोग हैं.

संयुक्त अरब अमीरात में भारतीय लोगों की संख्या 26 लाख है जो देश की कुल आबादी का 30 फीसदी है और यह देश का सबसे बड़ा प्रवासी समुदाय है. एडीजेडी के अवर सचिव युसूफ सईद अल अब्री ने कहा कि दावा शीट, शिकायतों और अनुरोधों के लिए बहुभाषा लागू करने का मकसद प्लान 2021 की तर्ज पर न्यायिक सेवाओं को बढ़ावा देना और मुकदमे की प्रक्रिया में पारदर्शिता बढ़ाना है.

ये भी पढ़ें- स्वीडन ने बनाया ऐसा फाइटर जेट, जो है राफेल और सुखोई से ज्यादा ताकतवर !

First published: 10 February 2019, 14:11 IST
 
अगली कहानी