Home » इंटरनेशनल » How dangerous is coronavirus, people of which age are vulnerable?
 

कितना खतरनाक है चीन से आया coronavirus, किस उम्र के लोगों को ले रहा है चपेट में ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 January 2020, 13:24 IST

coronavirus: चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि कोरोनावायरस से कम से कम 41 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 1,300 संक्रमित हो गए हैं. चीन के वुहान में इसका प्रकोप लाइव पोल्ट्री, समुद्री भोजन और जंगली जानवरों को बेचने वाले बाजार में शुरू हुआ. अब वायरस जापान, दक्षिण कोरिया, थाईलैंड, सिंगापुर, ताइवान, वियतनाम, नेपाल, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया और संयुक्त राज्य अमेरिका में भी फैल गया है. अन्य देशों में और कई अमेरिकी राज्यों में जांचकर्ता संभावित मामलों का मूल्यांकन कर रहे हैं. चीन के अधिकारियों ने वुहान और अन्य प्रभावित शहरों से परिवहन लिंक बंद कर दिए हैं. संयुक्त राज्य में दो मामलों की पुष्टि की गई है.

कोरोनोवायरस क्या है?

कोरोनवायरस उन स्पाइक्स के लिए नामित किए जाते हैं जो अपने झिल्ली से फैलते हैं, जो सूर्य के कोरोना से मिलते जुलते हैं. यह वायरस इंसान और जानवरों दोनों को संक्रमित कर सकते हैं. इससे गंभीर श्वसन बीमारियां हो जाती है. दुनियाभर के स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि नए वायरस की घातकता का सही आकलन करना कठिन है. गुरुवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल की घोषणा करने से इनकार कर दिया था.

न्यूयार्क टाइम्स के अनुसार तुलनात्मक रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका में प्रत्येक वर्ष लगभग 200,000 लोग फ्लू से अस्पताल में भर्ती होते हैं और लगभग 35,000 लोग मर जाते हैं. एक रिपोर्ट की माने तो पहले SARS प्रकोप के दौरान चीनी अधिकारियों ने WHO निरीक्षकों से मामलों को छुपाने का प्रयास किया था. लेकिन इस बार अधिकारियों ने जल्दी से WHO को नए वायरस के प्रकोप की सूचना दी.

कितना खतरनाक है ये नया वायरस?

WHO के अनुसार इस वायरस के लगभग एक चौथाई मामले गंभीर हैं. अब तक मृत्यु दर लगभग 4 प्रतिशत है, हालांकि यह प्रकोप बढ़ने पर बदल सकता है. सार्स के लिए मृत्यु दर लगभग 14 से 15 प्रतिशत है. इस प्रकोप के अधिकांश घातक परिणाम बुजुर्ग लोगों में हुए हैं. जिनमे पहले से ही हृदय रोग, उच्च रक्तचाप और मधुमेह जैसी बीमारियां थी.

Coronavirus : केरल में 7 लोग निगरानी में रखे गए, चीन में 41 लोगों की मौत

First published: 25 January 2020, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी