Home » इंटरनेशनल » in pakistan extremist cut both hand of christian men
 

पाकिस्तान: इस्लाम न मानने वाले ईसाई का हाथ काटा गया

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 July 2016, 13:52 IST
(एजेंसी)

पाकिस्तान में एक ईसाई व्यक्ति के दोनों हाथ कथित तौर पर कुछ मुस्लिम कट्टरपंथियों ने केवल इसलिए काट दिए, क्योंकि उसने इस्लाम धर्म कबूल करने से इनकार कर दिया.

इस घटना का सबसे दुखद पहलू यह है कि पाकिस्तान की पुलिस ने पीड़ित के आरोप को खारिज करते हुए यह कहा है कि उसके दोनों हाथ ट्रेन दुर्घटना में कटे हैं.

इस मामले में पाकिस्तानी अखबार ‘डान’ में बुधवार को खबर छपी है कि 25 साल के अकील मसीह ने मंगलवार को पुलिस से शिकायत दर्ज कराई कि कुछ अज्ञात मुस्लिमों ने बीते 24 जून को इस्लाम धर्म नहीं कबूल करने के लिए उसके हाथ एक कुल्हाड़ी से काट दिए.

मसीह का जिन्ना अस्पताल में इलाज किया गया. मसीह का कहना है, "कुछ लोग मेरे पास आए और मुझे इस्लाम धर्म कबूल करने के लिए कहा. मेरे इनकार करने पर उन्होंने मेरे ऊपर एक कुल्हाड़ी से हमला किया और मेरे दोनों हाथ काट दिए."

मसीह ने कहा कि उन्हें हमलावरों के नाम नहीं पता लेकिन वह उन्हें देखकर पहचान सकता है.

वहीं इस मामले में लाहौर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी अमारा अतहर ने कहा कि डॉक्टर की ओर से दी गई रिपोर्ट के मुताबिक मसीह के हाथ गुलबर्ग में एक बेवरेज कारखाने के पास हुई ट्रेन दुर्घटना में कटे.

अतहर ने प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से कहा कि मसीह एक रेल पटरी के पास बेहोश पड़ा हुआ था. तभी एक ट्रेन इंजन से उसके हाथ कोहनी तक कट गए.

उन्होंने कहा, "कुछ लोग उसकी चीख सुनकर रेल की पटरियों पर पहुंचे और उसे जिन्ना अस्पताल भर्ती कराया. मौके पर चार से पांच लोग मौजूद थे." इस बीच पुलिस का कहना है कि सबूत जुटाए जा रहे हैं और मसीह का बयान दर्ज करने के बाद अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया जाएगा.

First published: 14 July 2016, 13:52 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी