Home » इंटरनेशनल » Indonesia Tsunami Death Toll Raise Up Destruction After Krakatoa Eruption
 

अब तक 421 लोगों को निगल गई इंडोनेशिया में आई सुनामी, कई लोग अभी भी लापता

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 December 2018, 17:07 IST

इंडोनेशिया में शनिवार रात आई सुनामी में अब तक 421 लोगों की मौत हो चुकी है. मरने वालों की संख्या में अभी भी इजाफा होने की संभावना जताई जा रही है क्योंकि इस सुनामी में 1000 लोग घायल हो गए थे. जिनमें कुछ की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. बता दें कि शनिवार रात सुंडा जलसंधि के निकट ज्वालामुखी विस्फोट के बाद भीषण सुनामी आ गई थी.

शुरुआत में 43 लोगों के मरने की खबर आई और तब से लेकर अब तक 421 लोग इस प्राकृतिक आपदा में मारे जा चुके हैं. आपदा राहत एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो नुग्रोहो के मुताबिक सुनामी से 1459 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं. साथ ही अभी भी 128 लोग लापता हैं.

बता दें कि इंडोनेशिया की सुंडा जलसंधि के तट पर स्थानीय समयानुसार शनिवार रात 9:30 बजे सुनामी ने दस्तक दी. यह सुनामी क्रैकाटोआ की संतान कहे जाने वाले एक ज्वालामुखी में विस्फोट के कारण आई. वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस द्वीप का निर्माण क्रैकटो ज्‍वालामुखी के लावा से हुआ है. इस ज्‍वालामुखी में आखिरी बार अक्‍टूबर में विस्‍फोट हुआ था. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने आपदा पर दुख जताया है. उन्होंने इस दुख की इस घड़ी में भारत की ओर से मदद का भरोसा जताया है.

इंडोनेशियन अधिकारियों के मुताबिक, ज्वालामुखी विस्फोट के कारण सुनामी आने की घटनाएं बहुत कम होती हैं. भूकंप के कारण आने वाली सुनामी से इतर इस तरह की सुनामी में लोगों को सतर्क करने का कोई मौका नहीं मिलता है. इसी वजह से स्थानीय भूगर्भ वैज्ञानिक भी इस आपदा का पूर्वानुमान नहीं लगा पाए. राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो नुग्रोहो ने बताया कि ज्वालामुखी फटने के कारण समुद्र के नीचे सतह में हलचल हुई. पूर्णिमा की रात होने के कारण उठ रही ऊंची लहरों के साथ मिलकर यह हलचल बड़ी तबाही का कारण बन गईं.

इस दौरान समुद्र की लहरों ने सबकुछ तबाह कर दिया. दक्षिणी सुमात्रा और जावा के पश्चिमी तटों के आसपास होटल और इमारतों का मलबा पसरा हुआ है. पेड़ और बिजली के खंबे उखड़ गए हैं. सेना और पुलिस के जवान अभी भी राहत और बचाव कार्य में लगे हुए हैं. अधिकारियों ने अभी और भयानक लहरों की चेतावनी जारी की है. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि सबकुछ इतनी तेजी से हुआ कि लोगों को बचने का कोई मौका ही नहीं मिला.

बता दें कि जिस समय समुद्र किनारे सुनामी ने दस्तक दी वहीं समुद्र किनारे एक म्यूजिक कंसर्ट का आयोजन हो रहा था. शो के रंग में डूबे लोग नाच-गाने में डूबे हुए थे तभी अचानक ऊंची लहरों ने वहां दस्तक दी और सबकुछ तहस-नहस हो गया. इस दौरान प्रदर्शन कर रहे कलाकार स्टेज समेत बह गए. बता दें कि ये कंसर्ट में रॉक बैंड 'सेवनटीन' के सदस्यों द्वारा किया जा रहा था.

ये भी पढ़ें- इंडोनेशिया में फिर काल बन के आई भीषण सुनामी, अबतक 43 लोगों की मौत, 600 घायल, सैकड़ों घर तबाह

First published: 25 December 2018, 17:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी