Home » इंटरनेशनल » Iran pilgrims to miss Hajj amid row with Saudi Arabia
 

इस साल हज यात्रा पर नहीं जाएंगे ईरानी नागरिक

कैच ब्यूरो | Updated on: 30 May 2016, 15:55 IST

सउदी अरब और ईरान के बीच जारी तनाव के बीच ईरान के संस्कृति मंत्री अली जन्नाती ने कहा है कि ईरान अपने देश के नागरिकों को इस साल हज के लिए सऊदी अरब नहीं भेजेगा. जन्नाती ने कहा है, "ईरान के प्रतिनिधियों के साथ सउदी प्रतिनिधियों की बातचीत से लगता है कि ईरान के लोगों के लिए इस साल हज कर पाना असंभव है."

ईरान ने कहा कि उसके नागरिक इस साल हज यात्रा पर जाने से वंचित रह जाएंगे, क्योंकि सऊदी अरब बाधा पैदा कर रहा है. जन्नाती ने सऊदी अरब पर अल्लाह तक जाने की राह 'बाधित' करने का आरोप लगाया.

सऊदी अधिकारियों के साथ हाल में हुई कई दौर की बातचीत के बाद भी ईरान, सऊदी अरब के साथ सितंबर में होने वाली वार्षिक हज यात्रा में शामिल होने को लेकर किसी सहमति पर पहुंचने में नाकाम रहा है.

पिछले हफ्ते ईरान के विदेश मंत्रालय ने सऊदी अरब पर इस साल ईरान के लोगों की हज यात्रा में अड़ंगा लगाने का आरोप लगाया था.

ईरानी हज संगठन ने कहा कि सउदी अरब मक्का में ईरानी श्रद्धालुओं की 'सुरक्षा और सम्मान' की उसकी मांगों का जवाब देने में नाकाम रहा है. पिछले साल 60,000 ईरानी लोग हज यात्रा पर गए थे. पिछले साल मक्का में मची भगदड़ के दौरान सैकड़ों हज यात्रियों की मौत हुई थी, जिनमें अधिकतर ईरानी नागरिक थे.

वहीं ईरान के आरोपों पर सऊदी अरब ने कहा है कि ईरान हज का राजनीतिकरण कर रहा है. उसने कहा है कि ईरान खुद ही अपने लोगों की हज यात्रा की राह में रोड़े लगा रहा है.

सऊदी अरब में एक प्रमुख शिया धर्मगुरु को मौत की सजा दिए जाने के बाद तेहरान में सऊदी अरब के दूतावास और वाणिज्य दूतावास पर हमले हुए थे. इसको लेकर दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध जनवरी से खत्म है.

First published: 30 May 2016, 15:55 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी