Home » इंटरनेशनल » Irani Supreme Leader Ayatollah Khamenei says on Missile Attack on US Airbase in Iraq
 

इराक में अमेरिकी सैन्य बेस पर हमले के बाद बोले खामनेई, कहा- ये अमेरिका के मुंह पर तमाचा

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 January 2020, 16:11 IST

Ayatollah Khamenei says on Missile Attack : ईरान ने अपने सैन्य जनरल कासिम सुलेमानी की मौत का बदला लेने के लिए बुधवार को इराक में अमेरिकी एयरबेस (American Airbase) पर मिसाइल अटैक (Missiles Strike) किया. उसके बाद ईरान ने दावा किया उसने अमेरिका के 80 सैनिक मार गिराए. अब ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खामनेई (Ayatollah Khamenei) ने देश को संबोधित कर कहा है कि, मिसाइल अटैक को बड़ी सफलता है और ये अमेरिका की दादागीरी के खिलाफ ईरान का संघर्ष है. उन्होंने बताया कि हमारा हमला सफल रहा. ये हमला अमेरिका के मुंह पर तमाचा है.

अयातुल्ला खामनेई ने अल्लाह का नाम लेते हुए कहा, "आज अमेरिकी बेस पर ईरान के बहादुर और साहसी सैनिकों ने सफल आक्रमण किया. हमारा संघर्ष लगातार जारी है और हम शक्तिशाली ताकतों के खिलाफ संघर्ष के लिए एकजुट रहे हैं." खामनेई ने कहा कि, "ईरान कभी कमजोर नहीं पड़नेवाला. ये कभी हार भी नहीं मानने वाला है. ईरान के साथ जो हुआ हम उसको कभी नहीं भूलेंगे."


इस दौरान ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खामनेई ने जनरल कासिम सुलेमानी का जिक्र करते हुए कहा कि, सुलेमानी ने देश के लिए शहादत दी है और ईरान कभी उनके योगदान को नहीं भूल सकता है. खामनेई ने कहा, "वह महान साहसी व्यक्ति थे. उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ संघर्ष किया. उनके चेहरे की तरफ आप देखें, उन्होंने ईरान के मूल्यों को हमेशा आगे बढ़ाया. वह बहुतों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत थे और महान देशभक्त थे. हम उनकी पवित्र आत्मा के कर्जदार हैं."

बता दें कि बुधवार सुबह ईरान ने इराक के बगदाद में स्थित अमेरिकी एयरबेस पर 22 मिसाइल दागी थीं. ये हमले अल असद और इरबिल के दो सैन्य ठिकानों पर किया गया. ईरानी प्रेस टीवी ने इस मिसाइल अटैक में 80 सैनिकों के मारे जाने के दावा किया है.

अमेरिकी सैन्य ठिकानों पर मिसाइल हमले के बाद ईरान का दावा, 80 लोगों की मार गिराया

Ukraine Plane Crash : ईरान-अमेरिका तनाव के बीच तेहरान में यूक्रेन का प्लेन क्रैश, विमान में 180 यात्री सवार

ईरान ने इराक में अमेरिकी सैन्य बेस पर किया हमला, दर्जनभर से ज्यादा मिसाइलें दागी

First published: 8 January 2020, 16:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी