Home » इंटरनेशनल » Italian Marines Case- Marine dose not come to india
 

इटली भारत नहीं भेजेगा हत्या के एक आरोपी मरीन को

आशीष कुमार पाण्डेय | Updated on: 13 January 2016, 16:07 IST
QUICK PILL
  • इटली सरकार ने दो भारतीय मछुआरों की हत्या के आरोपी मरीन मेसीमिलानो लातोरे को भारत नहीं भेजने का फैसला किया है.
  • सुप्रीम कोर्ट ने 2014 में लातोरे को चिकित्सकीय आधार पर बेल जारी किया था. अब इटली की सरकार का कहना है कि बीमारी के चलते वह मरीन को वापस नहीं भेज सकती. 

15 फरवरी 2012 को केरल तट के पास दो इतालवी मरीनों के द्वारा दो भारतीय मछुआरों को मारने के आरोपी में से एक आरोपी मेसीमिलानो लातोरे भारत नहीं लौटेगा.

यह सूचना इतालवी सीनेट की रक्षा समिति के प्रमुख ने दी है. सुप्रीम कोर्ट ने 2014 में लातोरे को ब्रेनहैमरेज होने पर चार माहीने के बाद उसे इटली जाने की अनुमति दी थी.

इटली की एक सांसद निकोला लातोरे के मुताबिक सरकार के द्वारा मेसीमिलानो लातोरे को भारत नहीं भेजा जाएगा, साथ ही हमारी सरकार सल्वातोरे गिरोन के इटली वापसी की दिशा में प्रयास कर रही है. सल्वातोरे अभी भी भारत की हिरासत में हैं और हम चाहते हैं कि उसकी भी वापसी हो.

पिछले साल 13 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने चिकित्सकीय आधार पर छूट देते हुए लातोरे को और छह माहीने इटली में रहने की इजाजत दी थी. भारत में तत्कालीन य़ूपीए सरकार ने लातोरे के इटली जाने का विरोध नहीं किया था.

15 फरवरी 2012 को इटली के दोनों मरीन एनरिका लेक्सी जहाज पर थे. उन्होंने केरल तट पर दो भारतीय मछुआरों को समुद्री लुटेरा समझ कर गोली मार दी थी जिसमें दोनों मछुआरे मारे गए.

First published: 13 January 2016, 16:07 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी