Home » इंटरनेशनल » Kenya mp travelled to aurangabad just to repay debt of rs 200 taken 22 years ago
 

सांसद ने 22 साल पहले लिया था 200 रुपए उधार, अब चुकाने पहुंचा सात समंदर पार

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 July 2019, 13:11 IST

हम अपनी जिंदगी में कभी ना कभी उधार जरूर लेते हैं. कोई-कोई ऐसा व्यक्ति होता है, जो उधार चुकाने से मुकर जाते हैं या फिर ऐसे लोग भी लोग होते हैं, जो उधार चुकाना भूल जाते हैं. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने 22 पहले 200 रुपए कर्ज लिया था, जिसे चुकाने के लिए वे सात समंदर पार गए. ये कोई और नहीं बल्कि केन्या के सांसद हैं, जो अपने इस अच्छाई के कारण काफी सुर्खियां बटोर रहे हैं. 

दरअसल, केन्या की न्यारीबारी चाचे लोकसभा सीट से सांसद रिचर्ड न्यागाका टोंगी ने 22 साल पहले महाराष्ट्र के औरंगाबाद के काशीनाथ गवली नामक किरानेवाले से 200 रुपये उधार लिया था. इस कर्ज को चुकाने के लिए सांसद 22 साल बाद औरंगाबाद पहुंचे.

मौलना आजाद कॉलेज में टोंगी ने 1985-89 में मैनेजमेंट की पढ़ाई की थी. वह इस गवली की दुकान से रोजाना खाना खाते थे. जब टोंगी केन्या लौटे, तो उनके ऊपर 200 रुपए उधार था. टोंगी ने पत्रकारों से कहा, "मेरे ऊपर 22 साल पहले का उधार था जिसे मैंने नहीं चुकाया था. उन्होंने मुझे खाना दिया लेकिन मैंने उसके पैसे नहीं दिए. इसलिए जब मेरी शादी हुई तो मैंने भारत वापस आकर पैसे चुकाने की प्रतिज्ञा ली. अब मेरे दिल को चैन मिल गया है."

अचानक सड़कों पर लगा दर्जनों बाघों का हुजूम, लगी गाड़ियों की कतार, लेकिन...

पत्नी मिशेल के साथ टोंगी औरंगाबाद पहुंचे. टोंगी की पत्नी मिशेल ने कहा कि उनकी ये यात्रा काफी भावनात्मक थी. सांसद टोंगी ने कहा, "औरंगाबाद मे एक छात्र के रूप में मैं निम्नतम बिंदु पर था. तब इन लोगों (गवली) ने मेरी मदद की. उस समय मैंने सोचा था कि एक दिन मैं वापस आउंगा और उधार चुकाउंगा. मैं धन्यवाद कहना चाहता हूं. यह मेरे लिए बहुत भावनात्मक है."

टोंगी ने कहा, 'भगवान इस वृद्ध (गवली) और इसके बच्चों पर अपना आशीर्वाद बनाए रखें. यह बहुत अच्छे हैं. वह मुझे खाने के लिए होटल ले जाना चाहते थे लेकिन मैंने घर का खाना खाने की इच्छा जताई."

घूमने के लिए नहीं बल्कि इस काम के लिए जापान के लोग किराए पर ले रहे कार

First published: 12 July 2019, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी