Home » इंटरनेशनल » Kulbhushan Jadhav was kidnaped by Pakistan Intelligence Agency ISI, Balochistan
 

'कुलभूषण जाधव को पाक खुफिया एजेंसी ISI ने करोड़ों देकर करवाया था किडनैप'

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 January 2018, 10:41 IST

एक सक्रिय बलूच कार्यकर्ता ने पाकिस्तान में बंद कुलभूषण जाधव को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है. कार्यकर्ता मामा कदीर ने दावा किया है कि जाधव को पाकिस्तान की खुफिया आईएसआई के इशारे पर ईरान के चाबहार से अगवा किया गया. एक न्‍यूज चैनल को दिए इंटरव्‍यू में कदीर ने कहा कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए काम करने वाले मुल्ला उमर बलूच ईरानी ने जाधव को ईरान के चाबहार से अगवा किया था.

कार्यकर्ता मामा कदीर को यह जानकारी को वॉइस फॉर मिसिंग बलूच नामक संगठन से मिली थी. कदीर इस संगठन के उपाध्यक्ष हैं. कदीर ने कहा, "हमारे संयोजक वहां मौजूद थे. जाधव का अपहरण करने के लिए आईएसआई की ओर से मुल्ला उमर को करोड़ों रुपये दिए गए थे."

कदीर ने यह भी कहा कि मुल्ला उमर बलूचिस्तान में आईएसआई एजेंट के रूप में जाना जात है. वह अकिस्तान के खिलाफ आवाज उठाने वालों की जानकारी सरकार तक पहुंचाता है. कदीर ने बताया कि जाधव के दोनों हताहों को बांध दिया गया था. उनकी आंखों पर पट्टी बांध दी गई थी और उन्हें डबल डोर की एक कार में बैठाकर ले जाया गया.

कदीर ने यह भी बताया कि जाधव को पहले चाहबहार से ईरान और बलूचिस्तान सीमा स्थित शहर मशकेल ले जाया गया. वहां से जाधव को बलूचिस्तान की राजधानी क्वेटा के रास्ते इस्मालाबाद ले जाया गया. कदीर ने दावा किया कि "हम जानते थे कि कुलभूषण जाधव ईरान में एक व्यवसायी थे.

First published: 19 January 2018, 10:40 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी