Home » इंटरनेशनल » London terror attack: Seven arrested after raids at 6 addresses
 

लंदन आतंकी हमला: छापेमारी में 7 संदिग्ध गिरफ़्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 March 2017, 14:36 IST
london

लंदन में ब्रिटिश संसद के बाहर भारतीय समयानुसार देर रात हुए कथित आतंकी हमले में एक पुलिसकर्मी समेत 5 लोगों की मौत हो गई, जबकि 40 लोग घायल हुए हैं. पुलिस का कहना है कि 7 संदिग्धों को गिरफ़्तार किया गया है. 

कार्यवाहक उप कमिश्नर और आतंकवाद निरोधी प्रमुख मार्क रॉले ने कहा कि पीड़ित अलग-अलग देशों से हैं. उन्होंने कहा कि घायलों में सात लोग अब भी हॉस्पिटल में हैं और उनकी हालत गंभीर बनी हुई है.

ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीज़ा मे ने कहा है कि केवल एक हमलावर था. उसकी पहचान अभी नहीं बताई गई है. पुलिस का कहना है कि वो हमलावर के बारे में जानते हैं, और वे अभी उसके सहयोगियों के बारे में पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं. 

पुलिस कांस्टेबल कीथ पामर की मौत

पुलिस ने ये भी कहा है कि संसद के बाहर हुए हमले का संबंध इस्लामी कट्टरता से हो सकता है. अभी तक केवल मारे गए पुलिसकर्मी का नाम ज़ाहिर किया गया है. 48 वर्षीय पुलिस कांस्टेबल कीथ पामर 15 साल से पुलिस सेवा में थे.

घायलों में तीन और पुलिसकर्मी शामिल हैं जो एक समारोह से लौट रहे थे और वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर चल रहे थे. इनमें दो की हालत चिंताजनक बताई जा रही है. वेस्टमिंस्टर ब्रिज पर घायल हुए लोगों में दक्षिण कोरिया के पांच पर्यटक और रोमानिया के दो नागरिक शामिल हैं. लंकाशायर की एक यूनिवर्सिटी के चार छात्र भी घायल हुए हैं. एक स्कूल ट्रिप पर लंदन आए फ़्रांस के तीन बच्चे भी घायल हैं. 

पांच घंटे तक संसद में फंसे रहे सांसद

एक महिला को टेम्स नदी से बचाया गया. वो गंभीर रूप से घायल है. अभी ये स्पष्ट नहीं है कि वो पुल से नदी में कैसे गिरी. एक फ़ोटोग्राफ़र ने बताया कि उसने एक व्यक्ति को पुल से नीचे फ़ुटपाथ पर गिरते हुए देखा. हमले के वक़्त संसद की कार्यवाही चल रही थी, जिसे स्थगित कर दिया गया.

राजनेताओं, पत्रकारों और आगंतुकों को लगभग पांच घंटे तक संसद से बाहर नहीं जाने दिया गया. संसद से लेकर पास की वेस्टमिंस्टर ऐबे चर्च से सैकड़ों लोगों को सुरक्षित दूसरी जगहों पर ले जाया गया.

First published: 23 March 2017, 14:36 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी