Home » इंटरनेशनल » Madhesi protest in Nepal enters 4th day
 

नेपाल में फिर सुलगा मधेशी आंदोलन

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST

नेपाल में नए संविधान के विरोध में मधेशियों का आंदोलन लगातार चौथे दिन भी जारी है. मधेसी समर्थकों का कहना है कि नए संविधान से उनके अधिकारों को बहुसंख्यक दबा रहे हैं.

साथ ही, बहुसंख्यक अब मधेसियों को दिए गए जनसंख्या के आधार पर प्रतिनिधित्व, सही अनुपात में सत्ता की हिस्सेदारी और राज्य के पुनर्गठन के वादे से भी मुकर गए हैं.

पढ़ें: नेपाल की तराई में सुलगता असंतोष

मंगलवार को प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के आवास के बाहर सैकड़ों की संख्या में मधेशी आंदोलनकारियों की झड़पें पुलिस के साथ हुई है. पुलिस के साथ झड़प में तीन मधेसी कार्यकर्ता घायल हुए हैं.

बिगड़ते हालात के कारण नेपाल के प्रधानमंत्री केपी ओली की कुर्सी पर भी संकट के बादल मंडरा रहे हैं.

पढ़ें: क्या नेपाल सचमुच चीन के करीब जा रहा है?

इससे पहले फरवरी महीने में विवादास्पद संविधान को स्वीकारे जाने के कारण दक्षिणी नेपाल के तराई-मधेस मैदानों में तमाम रैलियों और प्रदर्शनों के चलते सुरक्षा एजेंसियों ने पांच दर्जन मधेशी प्रदर्शनकारियों को गोली मार दी थी.

उस दौरान रक्सौल-बीरगंज सीमा पर जारी धरना सुर्खियों में रहा जहां से लगभग 135 दिनों तक काठमांडू में जरूरी माल-असबाब की पहुंच बाधित रही.

First published: 17 May 2016, 7:48 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी