Home » इंटरनेशनल » Mars mission one lakh indians book ticket for mars
 

मंगल ग्रह पर जाने के लिए 1 लाख भारतीयों ने करार्इ बुकिंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 November 2017, 13:21 IST

अंतरिक्ष की रहस्मयी दुनिया के बारे में हम सब जानना चाहते हैं. एेसे में आपको अगर वहां जाने का मौका मिले तो शायद ही कोर्इ उस सुनहरे मौके को छोड़ेगा. हाल ही में अमेरिका की एजेंसी नासा ने मंगल ग्रह पर आम इंसान को जाने का मौका दिया था, जिसके लिए दुनिया भर से लोगों ने अपनी एंट्री दर्ज करार्इ है.

इन सभी लोगों ने अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा (NASA) के 'इनसाइट मिशन' (इंटीरियर एक्सप्लोरेशन यूसिंग सिस्मिक इंवेस्टीगेशन्स, जीओडेसी एंड हीट ट्रांसपोर्ट) के तहत अपना रजिस्ट्रेशन कराया है. नासा का 'इनसाइट मिशन' 5 मई 2018 को शुरू होगा. जिन लोगों ने मंगल पर जाने के लिए बुकिंग कराई है, उन्हें नासा की तरफ से ऑनलाइन 'बोर्डिंग पास' दिया जाएगा. जिन लोगों का रजिस्ट्रेशन हुआ है, उनका नाम सिलिकॉन वेफर माइक्रोचिप पर इलेक्ट्रॉन बीम के जरिए लिखा जाएगा. नाम के अक्षर इंसानी बाल के एक हजारवें हिस्से से भी पतले होंगे. जो लोग मंगल पर जाएंगे, उनके शरीर पर इस चिप को लगा दिया जाएगा.

नासा के मुताबिक, मंगल पर जाने के लिए दुनियाभर से 24 लाख 29 हजार 807 एप्लिकेशन मिले थे. इनमें ग्लोबल लिस्ट में भारत तीसरे नंबर पर है. लिस्ट में पहला नाम अमेरिका का है. यहां से 6 लाख 76 हजार 773 लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है. वहीं, चीन ने 2 लाख 62 हजार 752 लोगों ने बुकिंग कराई है. मंगल ग्रह पर जाने के लिए 1 लाख 38 हजार 899 लोगों ने फ्लाइट की टिकट बुक करवाई है.

स्पेस एक्सपर्ट का कहना है कि मंगल ग्रह जाने वालों में सबसे अधिक अमेरिकी हैं, लेकिन यह कोई हैरान करने वाली बात नहीं है, क्योंकि यह अमेरिका के नासा का ही मिशन है. लेकिन, जिस तरह से चीन के बाद भारत तीसरे स्थान पर है वह काफी अहमियत रखता है.

First published: 9 November 2017, 13:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी