Home » इंटरनेशनल » Microsoft co-founder Bill Gates revealed three skills that will make you successful for future job market
 

बिल गेट्स ने बताए भविष्य में रोजगार के जरूरी तीन स्किल्स

अमित कुमार बाजपेयी | Updated on: 11 February 2017, 5:45 IST

क्या आप भी जानना चाहते हैं कि भविष्य में सफतलापूर्वक नौकरी के योग्य बने रहने के लिए किन प्रतिभाओं की जरूरत पड़ेगी? तो यह खबर आपके काफी काम की है. माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक और दुनिया के टॉप रईसों में शुमार बिल गेट्स ने उन तीन स्किल्स का खुलासा किया है जो आपको जॉब रेडी और सफल बनाए रखेंगी.

भविष्य के रोजगार बाजार में सफलता पाने के लिए बिल गेट्स द्वारा बताए गए इस फॉर्मूले का फायदा केवल विज्ञान या गणित में विशेषज्ञता रखने वालों को ही नहीं बल्कि अन्य विषय के लोगों को भी मिलेगा. 

स्वयं द्वारा एकत्रित किए गए आंकड़ों के आधार पर बिल गेट्स ने कहा आने वाले सालों में साइंस, इंजीनियरिंग और इकोनॉमिक्स की पढ़ाई करने वाले यानी इन तीन क्षेत्रों के लोगों की सबसे ज्यादा मांग रहेगी.

दुनिया की 10 सबसे अच्छी और बुरी नौकरियां

लिंक्डइन के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर डैनिएल रॉथ से बातचीत में बिल गेट्स ने कहा, "मैं यह जरूर मानता हूं कि आने वाले भविष्य में तमाम करियर चुनने के लिए विज्ञान, गणित और अर्थशास्त्र के स्किल्स की जरूरत होगी."

उन्होंने आगे कहा, "इसका मतलब यह जरूरी नहीं कि आपको कोडिंग लिखनी होगी लेकिन आपको समझना होगा कि इंजीनियर्स क्या कर सकते हैं और क्या नहीं."

दुनिया के दिग्गज एंटरप्रेन्योर्स में शामिल बिल गेट्स ने आगे यह भी कहा कि इन विषयों में कुशल या निपुण कर्मचारी 'हर संस्थाओं के बदलाव की भूमिका' निभाएंगे.

अच्छी जॉब चाहिए तो लिंक्डइन नहीं फेसबुक पर समय बिताइए

गौरतलब है कि बिल गेट्स ने हाल ही में घोषणा की थी कि वो जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए स्वच्छ ऊर्जा (क्लीन एनर्जी) पैदा करने के नए तरीकों में निवेश कर रहे हैं और इससके लिए 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर से ज्यादा की रकम जुटा रहे हैं.

बिल गेट्स इसके लिए रिचर्ड ब्रैंसन, अमेजॉन के जेफ बेजॉस और चीन के ई-कॉमर्स अलीबाबा के संस्थापक समेत 170 बिलियन डॉलर की संयुक्त संपत्ति वाले निवेशकों के समूह का नेतृत्व करेंगे. 

अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप की जीत पर उनकी प्रतिक्रिया काफी आशावादी थी. उन्होंने हाल ही में कहा था कि अमेरिका एक नए चरण की ओर बढ़ रहा है और उन्हें उम्मीद है कि हेल्थ केयर, एजुकेशन और एनर्जी के क्षेत्र में दोगुनी वचनबद्धता की उम्मीद है.

देश के 5500 बी-स्कूलों के एमबीए छात्र रोजगार के लायक नहीं

First published: 24 December 2016, 7:11 IST
 
अमित कुमार बाजपेयी @amit_bajpai2000

पत्रकारिता में एक दशक से ज्यादा का अनुभव. ऑनलाइन और ऑफलाइन कारोबार, गैज़ेट वर्ल्ड, डिजिटल टेक्नोलॉजी, ऑटोमोबाइल, एजुकेशन पर पैनी नज़र रखते हैं. ग्रेटर नोएडा में हुई फार्मूला वन रेसिंग को लगातार दो साल कवर किया. एक्सपो मार्ट की शुरुआत से लेकर वहां होने वाली अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनियोंं-संगोष्ठियों की रिपोर्टिंग.

पिछली कहानी
अगली कहानी