Home » इंटरनेशनल » Myanmar: parliament holds historic session
 

म्यांमार में लोकतंत्र की बयार, नई संसद ने कामकाज संभाला

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 February 2016, 14:46 IST

म्यांमार में सोमवार का दिन ऐतिहासिक है. सोमवार को यहां की नवनिर्वाचित संसद का पहला सत्र शुरू हुआ है. 30 जनवरी, 2016 को म्यांमार में दशकों से चले आ रहे सैनिक शासन का अंत हुआ था.

देश में आठ नवंबर, 2015 को समाप्त हुए आम चुनाव में आंग सान सू की के नेतृत्व में नेशनल लीग फॉर डेमोक्रेसी (एनएलडी) ने भारी बहुमत से जीत दर्ज की थी.

एनएलडी के डॉक्टर खीन हते क्वे की अध्यक्षता में संसद का पहला सत्र शुरू हुआ. हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव (प्रतिनिधि सभा) में 440 संसदीय सीटें हैं.

एजेंडे के मुताबिक, संसद प्रतिनिधि सभा के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को चुनेगी. इसके अलावा वर्तमान राष्ट्रपति थेन सेन का कार्यकाल मार्च में खत्म हो रहा है. इससे पहले संसद को राष्ट्रपति का चुनाव करना होगा.

संविधान के मुताबिक सू की राष्ट्रपति नहीं बन सकतीं

म्यांमार के संविधान के तहत आंग सान सू की देश की राष्ट्रपति नहीं बन सकतीं क्योंकि उनके बच्चे विदेशी नागरिक हैं. सू की सैन्य शासन के दौरान 15 साल तक नजरबंद रहीं हैं.

हालांकि उनके नेतृत्व में उनकी पार्टी ने 330 सीटों पर हुए चुनाव में 238 पर जीत दर्ज की थी. ऊपरी सदन की 168 सीटों पर हुए चुनाव में एनएलडी ने 110 सीटों पर परचम लहराया.

म्यांमार में निचली सदन में 440 जबकि ऊपरी सदन में 224 सीटें हैं. संसद में 25 फीसदी सीट सेना के लिए आरक्षित है.

First published: 1 February 2016, 14:46 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी