Home » इंटरनेशनल » NASA new pictures revealed mystery of Bermuda Triangle!
 

खुल गया बरमुडा ट्राएंगल का रहस्य!

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 October 2016, 19:47 IST

हमारी इस दुनिया में तमाम ऐसी रहस्यमयी चीजें और स्थान हैं जिनका वैज्ञानिक आजतक हल नहीं निकाल सके. इनमें से बारमुडा ट्राएंगल भी ऐसा ही एक स्थान है जिसके आसपास से गुजरने वाले तमाम जहाज और विमान अचानक गायब हो जाते हैं और फिर कभी नहीं मिलते.

लेकिन अब नासा के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि इस रहस्य से पर्दा हट गया है. वैज्ञानिकों के मुताबिक बरमुडा ट्राएंगल नामक इस स्थान पर ऐसा क्या विशेष है जिससे यहां पर चीजें गायब होने के बाद उनका पता नहीं चल पाता, अब रहस्य नहीं रहेगा. 

नासा के सैटेलाइट द्वारा खींची गई पृथ्वी की तमाम तस्वीरों में से बरमुडा ट्राएंगल की भी फोटो हैं. इनमें अटलांटिक महासागर स्थित बरमुडा ट्राएंगल के ऊपर मंडराते बादल दिखाई दे रहे हैं.

जानिए 7 अच्छी आदतें जो हैं शरीर के लिए बेकार

इनमें बहामास और बरमुडा के बीच बादलों की तस्वीर ने वैज्ञानिकों को चौंका दिया है. इसका कारण है बरमुडा ट्राएंगल पर मंडराने बादलों का आम बादलों से पूरी तरह अलग होना. 

सैटेलाइट की तस्वीरों में दिख रहे कुछ बादलों का आकार हेक्सागोनल यानी षटकोण जैसा है. वैज्ञानिकों के मुताबिक आमतौर पर बादलों का आकार ऐसा नहीं होता है.

तस्वीरों से पता चला है कि षटकोण से दिखने वाले बादलों के नीचे 274 किलाेमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही थीं. ये हवाएं आसमान में 45 फीट ऊंची लहर या बवंडर बनाती हैं. हवा की इस ताकत के कारण ही वैज्ञानिकों ने इसे एयर बाॅम्ब का नाम दिया है. ये हवाएं इतनी ताकतवर हैं कि अपने रास्ते में आने वाली हर चीज को मिटा देती हैं. 

महाभारत के बाद श्रीकृष्ण, पांडवों का क्या हुआ, जानें रोचक रहस्य

वैज्ञानिकों के अनुसार, ये हवाएं जब समुद्र से टकराती हैं तो ऊंची-ऊंची लहरें उठती हैं. ये लहरें इतनी अधिक ताकतवर होती हैं कि अपने आसपास की बड़ी से बड़ी चीज को भी निगल जाती है. वैज्ञानिकों के मुताबिक ये बादल बरमुडा आइलैंड के दक्षिणी छोर में निर्मित होते हैं. 

हम आपको बता दें कि बरमुडा ट्राएंगल करीब 5 लाख वर्ग किलोमीटर में फैला है. ये इलाका अब तक करीब 175 पानी के जहाज और हवाई जहाजों को लील चुका है. इसके कारण अब तक करीब एक हजार लोग कभी वापस नहीं लौटे. विभिन्न शोधकर्ताओं ने बरमुडा ट्राएंगल की सीमा फ्लोरिडा, बहमास, पूरे कैरेबियाई द्वीप और अटलांटिक महासागर के उत्तरी हिस्से तक बताई है. खास बात ये है कि ये दुनिया का सबसे व्यस्ततम जल मार्ग है जहां से रोजाना कई जहाज गुजरते हैं. 

First published: 23 October 2016, 19:47 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी