Home » इंटरनेशनल » nawaz sharif controversial remark on kashmir violence
 

नवाज शरीफ: कश्मीर हिंसा ‘वीरों का संघर्ष’ है

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(एजेंसी)

पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने बुधवार को एक बार फिर कश्‍मीर पर विवादित बयान दिया. शरीफ ने कहा कि कश्‍मीर के मुद्दे पर अब भारत के पास दो विकल्‍प बचे हैं, या तो वह अपनी हिंसा इसी तरह से जारी रखे, जिसमें 11 दिनों में 45 से ज्‍यादा लोग मारे गए हैं या फिर हिमालय की विवादित घाटी के लोगों को उनके जनमत का अधिकार दे दे, जैसा कि भारत संयुक्‍त राष्‍ट्र में लगातार दावा कर रहा है.

पाकिस्‍तानी समाचार पत्र 'द एक्‍सप्रेस ट्रिब्‍यून' ने इस मामले में छापा है कि 19 मई को पाकिस्‍तान में ‘काला दिवस’ के मौके पर पाक पीएम नवाज ने कहा कि पाकिस्‍तान कश्‍मीर के साथ हर वक्‍त खड़ा है. उन्‍होंने कहा कि यह रिश्‍ता सिर्फ धर्म, सभ्‍यता या मानवता पर ही नहीं, बल्कि खून पर भी टिका है.

नवाज शरीफ ने अपने संबोधन में कहा, "हम अपने कश्‍मीरियों को कभी अकेला नहीं छोड़ेंगे. हमारी ओर से उनकी जंग सभी कूटनीतिक, राजनैतिक और मानवाधिकार मंचों पर लड़ी जाएगी."

नवाज ने कहा, "पाकिस्‍तान कश्मीर से भला खुद को कैसे अलग रख सकता है, जब भारत अधिकृत कश्‍मीर में ऐसी हिंसा हो रही हो. पूरा मुल्‍क कश्‍मीरी भाइयों के साथ खड़ा है."

पीएम नवाज ने आगे कहा, "कश्‍मीर में उठ रही आजादी की यो लहर अब कभी कम नहीं होगी. उन्‍होंने कहा कि जब देश ऐसे जज्‍बे के साथ आगे बढ़ता है, तो कोई भी ताकत उनके आजादी को रोक नहीं सकती."

नवाज शरीफ ने कहा, "कश्मीर में आजादी के लिए लड़ रहे ऐसे वीर लोगों के सामने हार मानने के अलावा भारत के पास कोई चारा नहीं बचता है."

First published: 20 July 2016, 4:54 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी