Home » इंटरनेशनल » New Zealand government buying arms from public 12 thousnads guns returned in 50 days
 

लोगों से क्यों हथियार खरीद रही है न्यूजीलैंड सरकार, जानिए क्या है पूरा मामला

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 August 2019, 15:11 IST

न्यूजीलैंड में बंदूक कल्चर को खत्म करने के लिए सरकार ने अहम पहल शुरु की है. इसके लिए सरकार ने लोगों से हथियार खरीदना शुरु किया है. बीते 50 दिनों में लोगों ने सरकार को 12 हजार से ज्यादा हथियार वापस कर दिए हैं. दरअसल, न्यूजीलैंड के शहर क्राइस्टचर्च में इसी साल 15 मार्च को एक मस्जिद पर आतंकी हमला हुआ था. जिसमें कई लोगों की मौत हो गई थी. उसके बाद यहां की सरकार ने देश में बंदूक कल्चर को खत्म करने की पहल की और लोगों को अपने-अपने हथियार सरकार को बेचने का अनुरोध किया.

न्यूजीलैंड में ये स्कीम बीते 20 जून को लागू की गई. उसके बाद से करीब 50 दिनों में लोगों ने 12,183 हथियार सरकार को वापस कर दिए हैं. जमा किए गए हथियारों में 11 हजार हथियार प्रतिबंधित श्रेणी के हैं. बता दें कि इन हथियारों के बदले सरकार ने लोगों को 73 करोड़ रुपए दिए हैं. इस स्कीम के लिए न्यूजीलैंड सरकार ने 200 मिलियन डॉलर यानि करीब 920 करोड़ रुपए का बजट जारी किया है.

सबसे बड़ी बात ये है कि न्यूजीलैंड सरकार भी नहीं जानती कि लोगों के पास कितने हथियार हैं. हालांकि एक अनुमान के अनुसार वैध और प्रतिबंधित श्रेणी के हथियार दोनों को मिलाकर लोगों के पास 12 लाख हथियार हैं, जबकि न्यूजीलैंड की आबादी 47.9 लाख है. इसके हिसाब से न्यूजीलैंड में हर चौथे शख्स के पास एक गन है.

न्यूजीलैंड की सरकार ने लोगों को उनकी बंदूकों का भुगतान करने के लिए एक खास फॉर्मूला तैयार किया गया है. दरअसल, जो बंदूकें खराब हालत में हैं, उसके बदले में कीमत का 25% तक भुगतान किया जा रहा है. वहीं अच्छी बंदूकों के लिए 95% तक कीमत दी जा रही है.

एक अमेरिकी रिपोर्ट के मुताबिक, न्यूजीलैंड में लोगों के पास सैन्य-शैली की सेमी-ऑटोमेटिक बंदूकें भी हैं, जिनकी कीमत 7 लाख रुपए से लेकर 70 लाख रुपए तक है. बता दें कि क्राइस्टचर्च की मस्जिद में हुए हमले में 51 लोगों की मौत हो गई थी. इस हमले के बाद सेमी ऑटोमैटिक गन्स पर प्रतिबंध के लिए न्यूजीलैंड की पूरी संसद एकजुट हो गई. संसद में कानून के पक्ष में 119 वोट पड़े. वहीं विरोध में केवल एक सांसद ने ही वोट डाला था.

चीन की चेतावनी का नहीं पड़ा कोई असर, हांगकांग में तेज हुआ प्रदर्शन, ट्रंप ने दी धमकी

First published: 19 August 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी