Home » इंटरनेशनल » Nirvav Modi is living in this famous 34-storey building in London
 

लंदन की इस मशहूर 34-मंजिला बिल्डिग में रह रहा है भगोड़ा नीरव मोदी

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 March 2019, 14:39 IST

पंजाब नेशनल बैंक से 13,000 करोड़ रुपये के घपले का आरोपी नीरव मोदी लंदन के वेस्ट एंड में एक अपार्टमेंट में थ्री- बैडरूम फ्लैट रह रहा है. अख़बार ने कहा कि मोदी सेंटर पॉइंट टॉवर ब्लॉक में रहता हैं. जिस अपर्टमेंट में वह रहता है उसका किराया लगभग £ 17,000 प्रति माह (15.5 लाख रुपये) के लगभग हो सकता है, इस अपार्टमेंट की कीमत लगभग 73 करोड़ रुपये है.

सेंटर पॉइंट मध्य लंदन में एक आलीशान इमारत है, जिसमें 34-मंजिला टॉवर हैं. इसमें दुकाने, कार्यालय, खुदरा इकाइयां भी मौजूद हैं. यह इमारत 117 मीटर (385 फीट) ऊंची है. इसमें 27,180 एम 2 (292,563 वर्ग फीट) का फर्श है. 1963 से 1966 तक निर्मित यह लंदन की पहली गगनचुंबी इमारतों में से एक थी और 2009 में शहर की 27 वीं सबसे ऊंची इमारत है. 1974 में हाउसिंग एक्टिविस्टों द्वारा इस पर कब्जा कर लिया गया था.

 

1995 से यह ग्रेड II सूचीबद्ध इमारत है. 2015 में इसे ऑफिस स्पेस से लग्जरी फ्लैट्स में बदल दिया गया. इस इमारत को आर्किटेक्ट आर सीफर्ट एंड पार्टनर्स के जॉर्ज मार्श ने डिजाइन किया. सेंटर पॉइंट को प्रॉपर्टी टाइकून हैरी हामस द्वारा सट्टा ऑफिस स्पेस के रूप में बनाया गया था, जिन्होंने 150 साल के लिए प्रति वर्ष £ 18,500 पर साइट को लीज पर लिया था. यह इमारत कई वर्षों तक खाली रही, जिसके कारण इसे लंदन की खाली गगनचुंबी इमारत के रूप में भी जाना जाता था.

 

जुलाई 1980 से मार्च 2014 तक सेंटर पॉइंट ब्रिटिश उद्योग परिसंघ (CBI) का मुख्यालय था. 33 साल और सात महीने में वे सबसे लंबे समय तक रहने वाले किरायेदार बन गए. अक्टूबर 2005 में कमर्शियल प्रॉपर्टी फर्म टारगेटफ्लो द्वारा 85 मिलियन पाउंड में सेंटर पॉइंट को पिछले मालिकों, ब्लैकमूर एलपी से खरीदा लिया गया. जिसके बाद भवन का बड़े पैमाने पर नवीनीकरण किया गया.

 लंदन में नीरव मोदी के अच्छे दिन: पहनता है 9 लाख की जैकेट, कुत्ते के साथ जाता है दफ्तर

यहां 2009 तक रहने वालों में अमेरिकी प्रतिभा एजेंसी विलियम मॉरिस शामिल थीं. सऊदी अरब से सबसे बड़ी कंपनी अरामको, चीनी तेल कंपनी पेट्रोचाइना; और इलेक्ट्रॉनिक गेमिंग कंपनी EA गेम्स का दफ्तर यहां मौजूद था. इसके बाद से इसे अल्माकांटर ने खरीद लिया. 2015 में आवासीय फ्लैटों के लिए भवन के रूपांतरण पर काम शुरू हुआ.

First published: 9 March 2019, 14:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी