Home » इंटरनेशनल » north korea: test the engine of ballistic missiles, target america
 

उत्तर कोरिया: बैलिस्टिक मिसाइल इंजन का सफल परीक्षण, निशाने पर अमेरीका

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 April 2016, 17:15 IST

उत्तर कोरिया ने अंतर-महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) के लिए डिजाइन किए गए एक इंजन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है, जिससे उसे परमाणु हमला करने की क्षमता हासिल हो गई है.

‘कोरियन सेंट्रल न्यूज एजेंसी’ (केसीएनए) के हवाले से दी गई इंजन के जमीनी परीक्षण की खबर में अगर सच्चाई है तो यह उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार कार्यक्रम की दिशा में एक बड़ा कदम होगा और इस साल की शुरूआत में यह उसका चौथा परीक्षण होगा.

इस परीक्षण के बाद उत्तर कोरिया ने भविष्य में अमेरिका पर परमाणु हमला करने की क्षमता हासिल कर लिया है. वहीं इस मामले में दक्षिण कोरिया के अधिकारियों का कहना है कि उत्तर कोरिया के पास अभी तक कोई विश्वसनीय अंतर-महाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल नहीं है.

उत्तर कोरिया की आधिकारिक समाचार एजेंसी केसीएनए ने इस परीक्षण की घोषणा की थी. अमेरिका और उसके सहयोगी उत्तर कोरिया का मानना है कि यह कार्रवाई उकसावे वाली है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने उत्तर कोरिया की किसी भी बैलिस्टिक गतिविधियों पर रोक लगाई है, जिसका उल्लंघन करते हुए उत्तर कोरिया ने पिछले महीने ही मध्यम-दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल का प्रक्षेपण किया था.

साल 2014 के बाद उत्तर कोरिया का यह पहला मध्यम-दूरी का मिसाइल प्रक्षेपण था. अमेरिका में विदेश विभाग के प्रवक्ता मार्क टोनर ने उत्तर कोरिया से इस तरह की कार्रवाई से बचने और क्षेत्र को अस्थिर करने वाली बयानबाजी के बजाय अपनी प्रतिबद्धताओं एवं अंतरराष्ट्रीय दायित्वों को पूरा करने की दिशा में ठोस कदम उठाने पर ध्यान केंद्रित करने को कहा है.

केसीएनए ने यह नहीं बताया कि उत्तर कोरिया ने यह परीक्षण कब किया. एजेंसी ने शासक किम के हवाले से कहा है कि अब उत्तर कोरिया अपने शत्रुओं पर और अधिक प्रभावशाली परमाणु हथियारों से लैस नए महाद्वीपीय बैलिस्टिक रॉकेट से हमले कर सकता है और उन्हें उनका नामोनिशान मिटाते हुए उन्हें खाक में मिला सकता है.

First published: 9 April 2016, 17:15 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी