Home » इंटरनेशनल » North korea warns America and south korea over military practices
 

उत्तर कोरिया: अमेरिका-दक्षिण कोरिया का संयुक्त सैन्याभ्यास ख़तरनाक

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 August 2017, 17:49 IST

उत्तर कोरिया ने शुक्रवार को चेतावनी देते हुए कहा कि दक्षिण कोरिया और अमेरिका का विवादित संयुक्त सैन्याभ्यास कोरियाई क्षेत्र की सुरक्षा के लिए घातक है. यह सैन्याभ्यास अगले सप्ताह से शुरू होना है.

उत्तर कोरिया की समाचार एजेंसी केसीएनए के मुताबिक, वार्षिक 'उलची फ्रीडम गार्डियन' सैन्याभ्यास कोरियाई प्रायद्वीप की स्थिति के लिए घातक हो सकता है. यह सैन्याभ्यास 21 अगस्त से शुरू होगा.

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, हर साल अगस्त से दक्षिण कोरिया और अमेरिका के सुरक्षाबल संयुक्त रूप से सैन्याभ्यास करते हैं. यह सैन्याभ्साय 12 दिनों तक चलेगा, जिसका मकसद उत्तर कोरिया की ओर से किसी भी उकसावे वाली कार्रवाई की प्रतिक्रियास्वरूप आपस में समन्वय करना है. उत्तर कोरिया इस सैन्याभ्यास की हर साल आलोचना करता है और इसे अपने खिलाफ युद्ध की तैयारियों के तौर पर देखता है.

उत्तर कोरिया की ओर से इस संयुक्त सैन्याभ्यास पर यह बयान बीते सप्ताह अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच हुए गर्मागर्म विवाद के बाद आया है. गौरतलब है कि उत्तर कोरिया ने संयुक्त राष्ट्र द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों पर प्रतिक्रियास्वरूप अमेरिका के गुआम द्वीप पर हमले की चेतावनी दी थी, जिसके बाद डोनाल्ड ट्रंप ने भी कड़े शब्दों में उत्तर कोरिया को करारा जवाब दिया था.

First published: 18 August 2017, 17:49 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी