Home » इंटरनेशनल » OIC on jammu and kashmir, India has rejected the OIC's statement by staging a strong stand against it
 

कश्मीर मुद्दे पर इस्लामिक देशों के संगठन ने दिया बड़ा झटका, भारत ने जोरदार तरीके से जताया प्रतिरोध

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 June 2019, 19:09 IST

इस्लामिक देशों के समूह (OIC) ने भारत को झटका देते हुए कश्मीर मामले पर अपना रुख बदल लिया है. OIC ने कश्मीर मुद्दे पर विशेष राजदूत की नियुक्ति कर दी है. भारत ने इस पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए OIC के बयान को ख़ारिज कर दिया है. भारत ने कहा है कि कश्मीर मुद्दा संगठन के अधिकार क्षेत्र का हिस्सा नहीं है. इस्लामिक देशों के समूह ने बीते हफ्ते हुई बैठक में जम्मू और कश्मीर के निवासियों के कानूनी अधिकारों का समर्थन किया था.

इससे पहले मार्च में जम्मू और कश्मीर पर OIC में आए प्रस्ताव पर भारत ने कहा था कि यह भारत का अभिन्न अंग है और आंतरिक मुद्दा है. गौर करने वाली बात यह है कि मार्च में हुई बैठक में ओआईसी ने कश्मीर मुद्दे को भारत और पाकिस्तान के बीच का मामला करार दिया था. उस दौरान कश्मीर पर एक अलग प्रस्ताव पास किया गया था.

 

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ''हम 31 मई को सऊदी अरब के मक्का में OIC की 14वीं बैठक में मंजूर अंतिम बयान में भारत के अभिन्न हिस्से के बारे में अस्वीकार्य उल्लेख को एक बार फिर खारिज करते हैं.''

गौरतलब है कि इस्लामिक देशों के समूह में 57 सदस्य देश हैं और इनमें से 53 मुस्लिम बहुल देश हैं. 31 मई सऊदी के पवित्र शहर मक्का में ओआईसी की 14वीं बैठक आयोजित की गई जिसमें मुस्लिम देशों के कई नेता और प्रतिनिधि इसमें शामिल हुए थे.

IOC की बैठक में कश्मीर में कथित मानवाधिकारों के हनन का मामला उठाया गया और भारत से वहां संयुक्त राष्ट्र आयोग और अन्य अंतरराष्ट्रीय संगठन को जाने देने की अनुमति देने को कहा गया था. जिसे भारत ने ख़ारिज कर दिया है.

First published: 4 June 2019, 19:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी