Home » इंटरनेशनल » oli resigns his pm post in nepal
 

नेपाल: पीएम ओली का इस्तीफा, गहराया राजनीतिक संकट

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 July 2016, 11:19 IST
(कैच )

नेपाल में राजनीतिक संकट उस समय और गहरा गया, जब प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया. इस्तीफे के बाद ओली ने अविश्वास प्रस्ताव को देश को ‘प्रयोगशाला’ में बदलने और नए संविधान को लागू करने में रोड़े अटकाने की ‘विदेशी ताकतों’ की साजिश करार दिया.

केपी ओली ने संसद में अविश्वास प्रस्ताव पर जवाब देते हुए कहा, "यहां आने से पहले, मैंने राष्ट्रपति से मुलाकात की और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया है."

गौरतलब है कि केपी ओली अक्टूबर 2015 में नेपाल के 38वें प्रधानमंत्री चुने गए थे. ओली के इस्तीफे के बाद माना जा रहा है कि नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के अध्यक्ष पुष्प कुमार दहाल 'प्रचंड' के नेपाल का नया प्रधानमंत्री बनने का रास्ता साफ हो गया है.

नेपाल की संसद में शुक्रवार को वार्षिक बजट से जुड़े तीन विधेयकों को बहुमत के जरिए खारिज कर दिए जाने के बाद ओली के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा शुरू हुई थी.

यह राजनैतिक संकट तब और गहरा गया, जब ओली सरकार की ओर से प्रस्तावित बजट विधेयक खारिज हो गया था. गठबंधन में प्रमुख सहयोगी कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल (माओवादी सेंटर) के समर्थन वापस ले लेने के बाद ओली सरकार अल्पमत में आ गई थी.

माओवादी पार्टी ने ओली कैबिनेट से अपने सभी मंत्रियों को वापस बुला लिया था. सरकार के अल्पमत में आने के बाद भी ओली ने इस्तीफा देने से मना कर दिया. इसके बाद नेपाली कांग्रेस और माओवादी पार्टी ने उनके खिलाफ संयुक्त रूप से अविश्वास प्रस्ताव पेश किया.

इस्तीफे के बाद ओली ने दावा किया कि उन्होंने अपने पड़ोसी देशों भारत और चीन से राष्ट्र की आजादी को बरकरार रखते हुए संबंध बेहतर किए.

First published: 25 July 2016, 11:19 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी