Home » इंटरनेशनल » Onlookers cheer as sexually abused girl jumps to death from Chinese building
 

बेशर्मी की हद पार, छात्रा ने छत से कूदकर दी जान और नीचे खड़े लोगों ने किया ये 'घिनौना' काम

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 June 2018, 15:56 IST

मंगलवार को आए थॉमसन रॉयटर्स के सर्वे की टॉप 10 की सूची में भले ही चीन का नाम ना हो, लेकिन यहां भी महिलाओं के प्रति अपराध और हिंसा कम नहीं है. ये बताने के लिए चीन के शहर किंगयाग की ये घटना काफी है. जहां यौन शौषण की शिकार एक छात्रा ने बिल्डिंग से कूदकर जान दे दी. यही नहीं लड़की की मौत का तमाशा देख रहे तमाम लोग इस दौरान तालियां बजाते रहे.

दुनिया में भारत ही नहीं अन्य देशों में भी महिलाओं के प्रति हिंसा के तमाम मामले सामने आते रहते हैं. ऐसा ही एक मामला चीन के शहर किंगयान से सामने आया है. जहां यौन शोषण का शिकार 19 साल की छात्रा ने कथित रूप से एक बिल्डिंग की 8वीं मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली. यही नहीं इस दौरान किसी ने छात्रा को बचाने की कोशिश नहीं की बल्कि लोग उसे ताना मारते रहे. जब उसने बिल्डिंग से छलांग लगाई तो देखने वालों ने तालियां बजाना शुरु कर दी. घटना के बाद सोशल मीडिया में कई लोगों ने महिलाओं के प्रति हो रहे अत्याचारों को लेकर नाराजगी जताई.

घटना का एक वीडियो ऑनलाइन शेयर किया गया था. जिसमें देखा गया कि पीडित छात्रा कई घंटों तक बिल्डिंग की रेलिंग पर खड़ी रही. वहीं रेस्क्यू टीम के लोग उसे नीचे उतरने के लिए कहते रहे, लेकिन आने-जाने वाले लोग छात्रा पर टिप्पणियां करते दिखे. वो कह रहे थे कि, 'तुम अब तक कूदी नहीं.’

जब छात्रा बिल्डिंग से कूद गई तो कुछ लोगों ने तालियां बजाना शुरु कर दी. चीन के सरकारी अखबार यूथ डेली के मुताबिक पुलिस ने कुछ लोगों को छात्रा को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया है. वहीं लड़की के परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी यौन शोषण का शिकार होने के बाद डिप्रेशन में थी.

बता दें कि पिछले साल सितंबर में उसके शिक्षक ने उसे चूमने और गले लगाने की कोशिश की थी. छात्रा के परिजनों के मुताबिक इस घटना के बाद वह डिप्रेशन में चली गई. छात्रा के परिजनों ने आरोप लगाया है कि स्कूल ने मामला दबाने के लिए उन्हें 53,564 डॉलर यानी करीब 36 लाख रुपये देने का ऑफर किया था, लेकिन परिजनों ने अपनी शिकायत वापस लेने से इंकार कर दिया था.

ये भी पढ़ें- भारत महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे खतरनाक देश- थॉमसन रॉयटर्स सर्वे

First published: 26 June 2018, 15:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी