Home » इंटरनेशनल » Pak Army Chief Accuses That India Is Trying To Destabilize Pakistan
 

पाकिस्तान को अस्थिर करने की फिराक में है भारत: पाक आर्मी चीफ

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 April 2016, 15:05 IST
QUICK PILL
  • भारत पर निशाना साधते हुए पाकिस्तानी सैन्य प्रमुख जनरल राहिल शरीफ ने कहा कि \'विदेशी ताकतें\' पाकिस्तान को अस्थिर करने की कोशिश कर रही हैं.
  • शरीफ ने कहा कि भारत ने चीन के 46 अरब डॉलर के निवेश से बन रहे आर्थिक कॉरिडोर को खुली चुनौती दी है. कॉरिडोर के बनने के बाद चीन के पश्चिमी क्षेत्र से पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट पर सामनों की अबाध आवाजाही हो सकेगी.

भारत पर निशाना साधते हुए पाकिस्तानी सैन्य प्रमुख जनरल राहिल शरीफ ने कहा कि 'विदेशी ताकतें' पाकिस्तान को अस्थिर करने की कोशिश कर रही हैं. शरीफ का यह बयान चीन के साथ बन रहे आर्थिक कॉरिडोर पर भारत की तरफ से जताई गई आपत्ति के बाद आया है.

शरीफ ने कहा कि भारत ने चीन के 46 अरब डॉलर के निवेश से बन रहे आर्थिक कॉरिडोर (चीन-पाकिस्तान इकनॉमिक कॉरिडोर) को खुली चुनौती दी है. इस कॉरिडोर के बनने के बाद चीन के पश्चिमी क्षेत्र से पाकिस्तान के ग्वादर पोर्ट पर सामनों की अबाध आवाजाही हो सकेगी. 

उन्होंने कहा, 'चीन और पाकिस्तान के बीच बेहतर रिश्तें हैं और यह प्रोजेक्ट उसी भरोसे का नतीजा है. लेकिन विदेशी ताकतों को इस परियोजना की संभावनाओं का पता है. वह इस क्षेत्र में अपना दखल कायम रखना चाहते हैं. इसलिए उनकी कोशिश पाकिस्तान और इस परियोजना को धाराशायी करने की है.'

भारत ने पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बीजिंग यात्रा के दौरान इस कॉरिडोर के निर्माण पर इसमें होने वाले निवेश को लेकर आपत्ति जताई थी. यह कॉरिडोर पाक अधिकृत कश्मीर से होकर गुजरता है. हालांकि चीन ने कॉरिडोर को आर्थिक परियोजना बताते हुए भारत की आपत्तियों को खारिज कर दिया था.

प्रधानमंत्री की चीन यात्रा के दौरान भारत इस आर्थिक कॉरिडोर को लेकर चीन के समक्ष अपनी आपत्ति जता चुका है

शरीफ ने कहा कि यह आर्थिक कॉरिडोर शांति और समृद्धि का प्रतीक है. कॉरिडोर की मदद से पाकिस्तान के सामाजिक और आर्थिक समीकरणों में बदलाव आएगा. 

अंतरराष्ट्रीय समुदाय से आतंक के खिलाफ युद्ध में पाकिस्तान की मदद करने की अपील के साथ शरीफ ने कहा कि दुनिया को यह बात समझनी चाहिए कि पाकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ लड़ रहा है. उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को ऐसे में पाकिस्तान में आतंक फैला रहे विदेशी ताकतों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए.

ग्वादर बलूचिस्तान प्रांत में पड़ता है जहां अलगाववादियों ने पिछले कई दशकों से पाकिस्तान सरकार के खिलाफ जंग छेड़ रखी है

शरीफ फिलहाल पाकिस्तान में ऑपरेशन जर्ब ए अज्ब चला रहे हैं. यह ऑपरेशन आतंकियों के खिलाफ चलाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि आतंकियों के खिलाफ लड़ाई आखिरी चरण में है और यह महज आतंकियों के खिलाफ चलाए जाने वाले ऑपरेशन नहीं बल्कि अपने आप में एक विचारधारा की तरह है जो आतंक और भ्रष्टाचार के विचार के खिलाफ है.

ग्वादर बलूचिस्तान प्रांत में पड़ता है जहां अलगाववादियों ने पिछले कई दशकों से पाकिस्तान सरकार के खिलाफ जंग छेड़ रखी है. बलोच अलगाववादियों का आरोप है कि पाकिस्तान ने इस क्षेत्र के साथ भेदभाव किया है.

टूट चुकी है शांति वार्ता

हाल ही में भारत में तैनात पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने अप्रत्याशित तौर पर भारत और पाकिस्तान के बीच शांति वार्ता के स्थगित किए जाने की घोषणा की थी. उनका कहना था कि पठानकोट जांच के लिए भारत आई पाकिस्तानी टीम को अपेक्षित सहयोग नहीं दिया गया.

पाकिस्तानी जांच दल के भारत दौरे के बाद भारतीय जांच दल को पाकिस्तान जाना था. हालांकि बासित की घोषणा के बाद इस पर विराम लग गया है. पठानकोट हमले के बाद दोनों देशों के बीच होने वाली विदेश सचिव स्तर की वार्ता रोक दी गई थी.

First published: 13 April 2016, 15:05 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी