Home » इंटरनेशनल » Pakistan: 5 Navy Officers Sentenced to Death
 

पाकिस्तान: आईएस से संबंधों पर 5 नौसेना अफसरों को मौत की सजा

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:49 IST
(ट्विटर)

पाकिस्तानी नौसेना के पांच अफसरों को आतंकियों से संबंध रखने के आरोप में मौत की सजा सुनाई गई है. पाक नेवी के पांच अधिकारियों पर इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकियों के साथ मिलकर साजिश रचने का आरोप है .

पाकिस्तान की नौसेना के एक न्यायाधिकरण ने नौसेना की कराची के नेवल डॉक यार्ड पर हमले के संबंध में नौसेना के पांच अधिकारियों को फांसी की सजा सुनाई है.

सब-लेफ्टिनेंट हमाद अहमद और चार अन्य अधिकारियों को एक नेवी ट्रिब्यूनल ने दोषी पाया. ये लोग 6 सितंबर 2014 को कराची के नेवल डॉक यार्ड पर हुए हमले के आरोपी थे. 

पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक हमलावर पाकिस्तानी युद्धपोत पीएनएस जुल्फिकार का अपहरण करने की साजिश रच रहे थे. इन लोगों की इस युद्धपोत से अमेरिकी रीफ्यूल जहाजों पर हमला करने की साजिश थी.

2014 के हमले में सुरक्षाबलों ने दो आतंकवादियों को मार गिराया था और चार को पकड़ लिया था. इस साजिश में सब-लेफ्टिनेंट हमाद अहमद समेत नौसेना के पांच अफसर शामिल थे.

फांसी की सजा पाने वाले अन्य अधिकारियों में इरफानुल्लाह, मुहम्मद हमाद, अरसालन नजीर और हाशिम नसीर शामिल हैं, जो फिलहाल कराची सेंट्रल जेल में कैद हैं.

आरोपी हमाद के पिता रिटायर्ड मेजर सईद अहमद ने डॉन अखबार को बताया, "पांचों पर इस्लामिक आतंकवादी संगठन आईएस से संबंध होने, बगावत, साजिश रचने और डॉक यार्ड पर हथियार ले जाने के आरोप थे."

हमाद अहमद के पिता ने कहा कि उन्हें अपने बेटे और उसके चार साथियों के मुकदमे के ट्रायल और सज़ा-ए-मौत का उस समय पता चला, जब वह अपने बेटे से मुलाक़ात के लिए जेल गए. 

सईद ने कहा कि नौसेना के अधिकारियों ने उनके बेटे को निष्पक्ष सुनवाई का अधिकार नहीं दिया. सईद अहमद ने दावा किया कि यह अधिकारी चार से पांच वर्ष पूर्व नौसेना में भर्ती हुए थे, इसलिए वह इस काबिल नहीं हो सकते कि वह नेवी के जहाज़ को हाईजैक करने की कोशिश कर सके.

पाकिस्तानी नौसेना ने हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है, लेकिन ऐसा पहली बार है, जब सेना के अफसरों को आतंकियों से संबंध रखने के जुर्म में सजा सुनाई गई है.

First published: 25 May 2016, 4:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी