Home » इंटरनेशनल » Pakistan acknowledge first time underworld don Dawood Ibrahim is in Karachi
 

पाकिस्तान ने पहली बार कबूल की अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के कराची में होने की बात

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 August 2020, 7:56 IST
(File Photo)

मुंबई में सीरियल बम धमाकों का आरोपी और अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहीम (Underworld Don Dowood Ibrahim) को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) ने पहली बार कबूल किया है दाऊद पाकिस्तान में रह रहा है. इससे पहले पाक हर बार इस बात से इनकार करता रहा है कि दाऊद इब्राहीम पाकिस्तान में मौजूद है. ये पहली बार जब पाकिस्तान ने कहा है कि वह कराची (Karachi) में रह रहा है. पाकिस्तान की ओर से जारी आतंकवादियों (Terrorists) की नई लिस्ट में इस बात का खुलासा हुआ है. एफएटीएफ (FATF) की निगरानी की लिस्ट से बाहर आने की कोशिशों के तहत पाकिस्तान ने आतंकियों की लिस्ट (List of terrorists) जारी की है.

इसमें दाऊद इब्राहिम का नाम भी शामिल किया गया है. जिसमें बताया गया है कि दाऊद इब्राहीम कराची के क्लिफ्टन इलाके (Clifton area) के व्हाइट हाउस (White House) में रहता है. बता दें कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई (Mumbai) में 12 मार्च 1993 को अलग-अलग इलाकों में एक के बाद एक 13 बम ब्लास्ट (Bomb Blast) हुए थे. जिसमें 257 लोगों की मौत हुई थी और 700 से ज्यादा लोग घायल हुए थे. इन धमाकों में इस समय 27 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति नष्ट हो गई थी. इस मामले में 129 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया गया था. हमलों के अंजाम देने के बाद ब्लास्ट का मास्टरमाइंट दाऊद इब्राहिम देश छोड़कर भाग गया.


Ganesh Chaturthi 2020: दुनिया का सबसे बड़ा मुस्लिम देश अपनी करेंसी में छापता है भगवान गणेश की तस्वीर

उसके बाद वह पाकिस्तान में जाकर रहने लगा. भारत (India) ने कई बार पाकिस्तान से दाऊद समेत वांछित अपराधियों की सूची सौंपकर उन पर कार्रवाई की मांग की. लेकिन पाकिस्तान ने हर बार इनकार किया कि दाऊद इब्राहिम उनके यहां नहीं है. भारत ने अमेरिका की मदद से दाऊद को ग्लोबल टेररिस्ट भी घोषित करा दिया था.

SSR केस: CBI ने सुशांत के कुक से की पूछताछ, AIIMS की फोरेंसिक टीम भी कर रही है पूरा सहयोग

उसके बावजूद हर बार पाकिस्तान इससे इनकार करता रहा, लेकिन, पहली बार पाकिस्तान ने न सिर्फ ये माना है कि वह पाकिस्तान में रहता है बल्कि उसके ऊपर कार्रवाई भी की है. पाकिस्तान ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी वित्त पोषण पर निगरानी रखने वाली संस्था वित्तीय कार्रवाई कार्य बल (FATF) की ग्रे लिस्ट से बाहर होने की कोशिशों के तहत अपने यहां पर इस तरह की बड़ी कार्रवाई की है.

चीन को मोदी सरकार ने दिया सबसे बड़ा झटका, 44 सेमी हाईस्पीड वंदे भारत ट्रेन का टेंडर किया रद्द

 

'जासूस मोनिका' का पत्र- जहां तैनात हैं राफेल विमान, उस अंबाला एयरफोर्स स्टेशन को उड़ाने की धमकी

पाकिस्तान ने 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों, हाफिज सईद, मसूद अजहर और दाऊद इब्राहिम समेत उनके आकाओं पर कड़े वित्तीय प्रतिबंध लगाए हैं. शनिवार को एक खबर में इस बात की जानकारी दी गई. बता दें कि पाकिस्तान ने हाल ही में जारी सूची में 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और उसके आकाओं पर बैन लगाया है. इसके तहत आतंकी संगठनों और उनके आकाओं के बैंक अकाउंट भी सील करने का आदेश दिए गए हैं. इसमें हाफिज सईद और मसूद अजहर जैसे आतंकवादियों का नाम भी शामिल है. खबरों के मुताबिक, इन आतंकी संगठनों और उनके आकाओं की सभी संपत्तियों को जब्त करने और बैंक खातों को सील करने के आदेश दिए हैं.

राहुल गांधी ने फिर छेड़ा राफेल का राग, BJP बोली- 2024 के चुनाव में बनाइएगा मुद्दा

पेरिस स्थित एफएटीएफ ने जून, 2018 में पाकिस्तान को 'ग्रे लिस्ट में डाला था और इस्लामाबाद को 2019 के अंत तक कार्ययोजना लागू करने को कहा था लेकिन कोविड-19 महामारी के कारण इस समय सीमा बढ़ा दी गई थी. उसके बाद सरकार ने 18 अगस्त को दो अधिसूचनाएं जारी करते हुए 26/11 मुंबई हमले के साजिशकर्ता और जमात-उद-दावा के सरगना सईद, जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख अजहर और अंडरवर्ल्ड डॉन इब्राहीम पर प्रतिबंधों की घोषणा की थी.

2 करोड़ 55 लाख रूपये में बिका यह पुराना चश्मा, जानिए क्या है इसका भारत से खास कनेक्शन

First published: 23 August 2020, 7:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी