Home » इंटरनेशनल » pakistan: assembly speaker not permitted oth to hindu leader baldev kumar
 

पाकिस्तान: खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के हिन्दू नेता के साथ असेंबली में अन्याय

कैच ब्यूरो | Updated on: 23 September 2016, 13:22 IST
(एजेंसी)

पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री सरदार सूरन सिंह की हत्या में आरोपी एक नेता को प्रांतीय असेंबली में सदस्यता की शपथ नहीं दिलाने के मामले ने तूल पकड़ लिया है.  

पेशावर की एक जेल में बंद पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नेता बलदेव कुमार ने प्रांतीय असेंबली के स्पीकर द्वारा सदस्यता की शपथ दिलाने से इनकार करने के बाद अब अदालत का रुख करने करने की तैयारी की है.

खैबर-पख्तूनख्वा प्रांतीय असेंबली के स्पीकर असद कैसर ने कुमार को शपथ दिलाने से इनकार कर दिया और उनके शपथ ग्रहण को इस सत्र में असेंबली के एजेंडे में शामिल तक नहीं किया गया.

गौरतलब है कि पाकिस्तान चुनाव आयोग ने अप्रैल में सिंह की हत्या के बाद खाली हुई आरक्षित सीट पर कुमार को निर्वाचित उम्मीदवार घोषित किया था. नियमों के अनुसार चुनाव आयोग के अधिसूचना जारी करने के बाद शपथ ग्रहण को विधानसभा के दिन के एजेंडे में शामिल किया जाना चाहिए.

इस मामले में सूत्रों का कहना है कि बलदेव कुमार ने मामला अदालत में ले जाने के लिए अपने शुभचिंतकों एवं करीबी रिश्तेदारों के साथ विचार-विमर्श करना शुरू कर दिया है.

अज्ञात बंदूकधारियों ने पेशावर से उत्तर-पूर्व में करीब 160 किलोमीटर दूर बुनेर जिले में सरदार सूरन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी थी. हत्या में कथित संलिप्तता के लिए पुलिस ने कुमार को गिरफ्तार किया था.

घटना के बाद तहरीक-ए-तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली थी. संविधान ने चुनाव में दूसरे स्थान पर रहे उम्मीदवार कुमार को प्रांतीय असेंबली के सदस्य (एमपीए) के तौर पर शपथ लेने की मंजूरी दी थी.

लेकिन हत्याकांड में कुमार की कथित संलिप्तता को देखते हुए परवेज खट्टक के नेतृत्व वाली प्रांतीय सरकार ने उनके खिलाफ कड़ा रुख अपनाते हुए फैसला किया कि सरकार किसी आरोपी को असेंबली में बैठने की मंजूरी नहीं देगी.

First published: 23 September 2016, 13:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी