Home » इंटरनेशनल » Pakistan Election 2018: Imran Khan leads Shahbaz Sharif Bilawal Bhutto loose their seats
 

पाकिस्तान चुनाव: इमरान खान होंगे नए कप्तान, आसानी से हासिल कर लेेंगे बहुमत

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 July 2018, 16:02 IST

पाकिस्तान के आम चुनाव में क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान की पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. इमरान खान की अगुवाई वाली पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ को अन्य दलों के मुकाबले मिली भारी बढ़त के बाद पार्टी कार्यकर्ता पाकिस्तान की सड़कों पर जश्न मनाने लगे हैं. इमरान खान का प्रधानमंत्री बनना तय माना जा रहा है.

वहीं दूसरी तरफ इमरान खान की लहर में कई दिग्गज धाराशायी हो गए हैं. पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) की ओर से प्रधानमंत्री पद का सपना देखने वाले शहबाज शरीफ खुद चुनाव हार गए हैं.

इसके अलावा इस चुनाव में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरे पाकिस्तान पीपल्स पार्टी के सह-अध्यक्ष बिलावल भुट्टो भी अपनी सीट हार गए हैं. 

 

पाकिस्तान चुनाव आयोग के अनुसार इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ 114 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. वहीं पाकिस्तान मुस्लीम लीग 63 और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी 42 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है.

बता दें कि पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में कुल 342 सदस्य होते हैं जिनमें से 272 को सीधे तौर पर चुना जाता है जबकि शेष 60 सीटें महिलाओं और 10 सीटें धार्मिक अल्पसंख्यकों के लिए आरक्षित हैं. कोई पार्टी तभी अकेले दम पर सरकार बना सकती है जब उसे 172 सीटें हासिल हो जाए. 

प्रधानमंत्री बनने जा रहे इमरान खान मज़हबी रूढ़िवादी माने जाते हैं. हालांकि अब वह करप्शन के खिलाफ लड़ने की बात करते हैं. विपक्षी उनको तालिबान खान कहते हैं, वो इस्लामिक वेलफेयर स्टेट का वादा कर रहे हैं.

विपक्षियों का दावा है कि उनकी पार्टी को अमेरिका से घोषित उन आतंकवादियों का समर्थन है जो अलकायदा से जुड़े रहे हैं. इसके अलावा वो तालिबान से सहानुभूति रखते हैं और उनको पख्तून नेता कहते हैं. उन्हें आईएसआई और सेना का समर्थन प्राप्त है.

First published: 26 July 2018, 9:16 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी