Home » इंटरनेशनल » Pakistan Election Results 2018: Terrorist Hafiz Saeed party MMM not win single seat
 

पाकिस्तान चुनाव नतीजे: आतंकी हाफिज सईद की पार्टी का हुआ खस्ताहाल, खाता तक नहीं खुला

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 July 2018, 10:00 IST

पाकिस्तान के आम चुनाव में क्रिकेटर से नेता बने इमरान खान की पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. इस तरह से उनका प्रधानमंत्री बनना तय माना जा रहा है. वहीं दूसरी मुंबई आतंकी हमले के मास्टरमाइंड और जमात उद दावा के प्रमुख आतंकी हाफिज सईद को इस चुनाव में करारा झटका लगा है. पाकिस्‍तान की अवाम ने इस चुनाव में उसे उखाड़कर फेंक दिया है. दरअसल, इस चुनाव में उसकी पार्टी अल्‍लाह-ओ-अकबर तहरीक एक भी सीट पर बढ़त नहीं बना पाई हैै.

हाफिज ने 265 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे. उसके चुनावों में खड़े होने की घोषणा से भारत समेत पूरी दुनिया में हड़कंप मचा हुआ था. हाफिज ने आम चुनाव में मतदान के दौरान लोगों से अपील की थी कि वे पाकिस्तान की विचारधारा के लिए मतदान करें. सईद का बेटा और दामाद भी आम चुनाव में हिस्‍सा ले रहे थे.

 

हाफिज का बेटा हाफिज तलहा सईद सरगोधा से एनए-91 से चुनाव लड़ रहा है. यह जमात-उद दावा नेता का गृहनगर है जो लाहौर से करीब 200 किलोमीटर दूर है. वहीं हाफिज का दामाद खालिद वलीद पीपी-167 से प्रत्याशी है.

बता दें कि हाफिज सईद के प्रतिबंधित जमात-उद दावा की पार्टी मिल्ली मुस्लिम लीग (एमएमएल) ने अल्लाह-ओ-अकबर तहरीक (एएटी) नाम की पार्टी से 265 प्रत्याशियों को चुनाव में उतारा था. दरअसल, हाफिज ने पहले अपनी पार्टी मिल्‍ली मुस्लिम लीग (एमएमएल) के बैनर तले अपने प्रत्‍याशियों को मैदन में उतारा था.

लेकिन बाद में चुनाव आयोग की ओर से उसकी पार्टी को मान्‍यता देने से इनकार कर दिया गया था. इसके बाद हाफिज सईद ने अल्‍लाह-ओ-अकबर के बैनर तले अपने प्रत्‍याशियों को मैदान में उतारा. उसका दावा था कि उसके सभी प्रत्‍याशी इन चुनावों में जीतेंगे. लेकिन पाकिस्‍तान की जनता ने उसके सभी मंसूबों पर पानी फेर दिया.

First published: 26 July 2018, 10:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी