Home » इंटरनेशनल » Pakistan EX Pm sharif accused for money laundering to india world bank says the report is not true
 

नवाज़ शरीफ पर 5 अरब काला धन भारत भेजने का आरोप, World Bank ने रिपोर्ट को बताया गलत

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2018, 10:41 IST

पनामा मामले में दोषी करार पाकिस्तान के पूर्व पीएम नवाज शरीफ पर कला धन भारत में रखने का आरोप है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार नवाज़ शरीफ ने मनी लॉन्ड्रिंग के जरिये करोड़ों का काला धन भारत भेजा है. नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (NAB) ने इस मामले में शरीफ के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं.

वहीं विश्वबैंक ने पाकिस्तान की मीडिया रिपोर्ट्स को ग़लत बताया है. विश्वबैंक ने एक बयान में कहा मीडिया ने विश्वबैंक की 2016 की जिस रिपोर्ट को आधार बना कर शरीफ पर आरोप लगाए हैं, वो गलत है. विश्वबैंक ने कहा कि रिपोर्ट में मनी लॉन्ड्रिंग की कोई बात शामिल नहीं है और ना ही इसमें किसी व्यक्ति का नाम शामिल है.

ये भी पढ़ें- ट्रंप का ईरान परमाणु समझौते से हटने का फैसला,पश्चिमी एशिया में बढ़ सकता है तनाव

पाकिस्तान के जिओ न्यूज़ के मुताबिक नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (NAB) ने एक मीडिया रिपोर्ट को आधार बनाते हुए पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं. इस रिपोर्ट में कहा गया है कि शरीफ ने लगभग 5 अरब डॉलर काला धन भारत को भेजा है.

 

इस मीडिया रिपोर्ट ने वर्ल्ड बैंक के माइग्रेशन एंड रेमिटंस बुक का हवाला देते हुए कहा कि माइग्रेशन एंड रेमिटंस बुक 2016 में मनी लॉन्ड्रिंग के इस मामले का जिक्र है. आगे कहा गया है, "पैसे भारतीय वित्त मंत्रालय में अवैध तौर पर जमा कराए गए जिसकी वजह से भारत का फॉरेन एक्सचेंज रिजर्व बढ़ गया और पाकिस्तान को इससे काफी नुकसान हुआ."

ब्यूरो न दावा किया है कि भारत में रकम जमा कराने के कारण पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार कम हो गया और भारत का बढ़ गया. गौरतलब हैं कि पाकिस्तान के पूर्व पीएम को पनामा मामले में दोषी पाया गया था, जिसके बाद उन्हें पीएम पद के लिए अयोग्य करार दे दिया गया. शरीफ पर पनामा मामले को मिलकर कुल 3 भ्रष्टाचार के मामले हैं.

 

 

First published: 9 May 2018, 10:24 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी