Home » इंटरनेशनल » Pakistan government eyes on banned organizations in ramadan
 

Pak में रमजान के दौरान प्रतिबंधित संगठनों पर सरकार की कड़ी नजर, चंदा जुटाने पर लगाई रोक

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 May 2019, 9:10 IST

अंतरराष्ट्रीय दबाव के कारण पाकिस्तान के गृह मंत्रालय की ओर से एक आदेश जारी किया गया है. इस आदेश के मुताबिक, पाकिस्तान के सभी प्रांतीय सरकारों को आदेश दिया गया है कि रमजान के दौरान विभिन्न प्रतिबंधित संगठनों पर नजर रखें. इसके साथ ही जैश-ए-मोहम्मद और जमात-उद-दावा समेत कई प्रतिबंधित संगठनों पर चंदा जुटाने पर प्रतिबंध लगाया गया है.

पाकिस्तान मंत्रालय द्वारा इस आदेश का सख्ती से पालन करने के लिए कहा गया है. पाकिस्तान ने पाक के राज्य सरकारों को आदेश दिया है कि वे अपनी स्थानीय जनता को बताएं कि आतंकरोधी कानून 1997 और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद कानून 1948 के तहत प्रतिबंधित संगठनों को किसी भी तरह का समर्थन ना करें. अगर वे ऐसा करते हैं, तो ये अपराध की श्रेणी में आएगा. अगर वे इन संगठनों को  किसी भी तरह की सहायता देते हैं, तो उन्हे 10 साल की सजा और जुर्माना देना होगा.

आसमान में उड़ान भरते विमान में लगी भीषण आग, 41 लोगों की दर्दनाक मौत

बता दें कि पाकिस्तान में रमजान के दौरान आतंकी संगठन सामाजिक गतिविधियों के बहाने चंदा जुटाने की कोशिश करते हैं, जिससे वे असमाजिक गतिविधियों के लिए चंदा जुटा सकें. 

पाकिस्तान में कई संगठनों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, जिनमें लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद, आइएस, लश्कर-ए-झांगवी, जमात-उद-दावा, अल कायदा, तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान और फलह-ए-इंसानियत फाउंडेशन जैसे संगठन शामिल हैं.

पाकिस्तानी मंत्रालय के अनुसार, सरकार ने प्रतिबंधित समूहों से जुड़े 589 मदरसों, अस्पतालों, स्कूलों को अपने कब्जे में ले लिया है.

'जय श्री राम' का नारा लगाने पर भड़की ममता ने दी थी चेतावनी, सात BJP समर्थक गिरफ्तार

First published: 6 May 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी