Home » इंटरनेशनल » Pakistan granted 30 Crore to Madrassa aka 'University of Jihad'
 

'यूनिवर्सिटी ऑफ जेहाद' को पाकिस्तान ने दिए 30 करोड़ रुपये

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 June 2016, 18:22 IST

पाकिस्तान ने अपने बजट में से 'यूनिवर्सिटी ऑफ जेहाद' के नाम से मशहूर एक मदरसा को 30 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता दी है. इस मदरसा में अफगान-तालिबान के प्रमुख मुल्ला उमर समेत तमाम बड़े नेताओं ने तालीम हासिल की है.

पाकिस्तान की खैबर पख्तूनख्वाह सरकार के मंत्री शाह फरमान ने इस सप्ताह विधानसभा में कहा, "इस बात की घोषणा करते हुए काफी गर्व हो रहा है कि दारूल उलूम हक्कानिया नौशेरा को सालाना खर्च के लिए 30 करोड़ रुपये मिलेंगे."

उन्होंने यह भी कहा कि इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ, खैबर पख्तूनख्वाह में सरकार की धार्मिक संस्थाओं को निशाना नहीं बना रही है बल्कि सहयोग करने के साथ वित्तीय मदद दे रही है. नौशेरा जिले के अकोरा खट्टक में बनाए गए इस मदरसा में कई शीर्ष तालिबानी नेताओं ने तालीम हासिल की है. तालिबान प्रमुख मुल्ला उमर ने भी यहां से डॉक्टरेट की तालीम ली है.

इतना ही नहीं हक्कानी नेटवर्क के संस्थापक जलालुद्दीन हक्कानी, भारतीय उपमहाद्वीप में अलकायदा के नेता असीम उमर और बीते सप्ताह अमेरिका द्वारा किए गए ड्रोन हमले में मारे गए अफगान-तालिबान के प्रमुख मुल्लाह अख्तर मंसूर भी यहीं से पढ़े हैं.

First published: 19 June 2016, 18:22 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी